haridwar police issued number against drug addiction
Breaking News Latest News Uttarakhand Viral News

उत्तराखण्ड: नशे के खिलाफ पुलिस ने जारी किया नंबर, सूचना देने पर होगा तुरंत एक्शन

चंद्रशेखर जोशी।
धर्मनगरी हरिद्वार को नशा विरोधी बनाने के लिए हरिद्वार पुलिस ने पहल की है। हरिद्वार पुलिस ने नंबर जारी कर हरिद्वार के लोगों से अपील की है कि शराब, नशीली दवाईयां, इजेक्शन और स्मैक आदि मादक पदार्थों की सूचना देने पर तुरंत एक्शन लिया जाएगा। एडीजे लॉ एंड आॅर्डर अशोक कुमार ने सीसीआर में सोमवार को पत्रकारों से वार्ता करते हुए बताया कि नशे के खिलाफ जंग में पुलिस को आम लोगों का सहयोग चाहिए। इसलिए हमने एक नंबर 8864882100 जारी किया है। इस नंबर पर कोई भी नशे के खिलाफ जंग में पुलिस का भागीदार बन सकता है।
गौरतलब है कि पूरे उत्तराखण्ड में नशे के सौदागारों ने अपना जाल बिछाया हुआ है। इसी क्रम में हरिद्वार में भी युवाओं में नशे की प्रवृत्ति बढ रही है। नशे के खिलाफ लोगों को बेदार भी किया जा रहा है। लेकिन ​युवाओं में नशे की लत बढती जा रही है। कुछ समय पहले हरिद्वार प्रशासन की ओर से भी नंबर जारी किया गया था। इसमें भी लोगों से अपील की गई थी कि ताकि प्रशासन अपने स्तर से कार्रवाई कर सके।
हिंदुस्तान के वरिष्ठ अपराध संवाददाता सागर जोशी ने बताया कि शहर में नशे का जाल बहुत बडे पैमाने पर बढ गया है। पुलिस इसे तोडने में अभी तक नाकाम रही है। लेकिन, पुलिस ने ये नंबर जारी किया है। इससे आमजन की सहभागिता मिल पाएगी। लेकिन पुलिस को भी लोगों की शिकायतों पर तुरंत एक्शन लेना होगा। अक्सर देखा गया है कि शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं होती है।

3 Replies to “उत्तराखण्ड: नशे के खिलाफ पुलिस ने जारी किया नंबर, सूचना देने पर होगा तुरंत एक्शन

  1. Dear sir
    Thanks for your nasha mukti program
    But ise muhim ko aage badhane ke liye ek vyakti har village se hona chahiye aur uski jankari gupt rakhi jani chahiye aur unki yogna ya information ki help se nashakhoro ko pakde
    Thanks

  2. Kya Yah Sahi baat hai Aisa ho sakta hai.Haridwar kya Puri india Sahi ho jayagi Agar Polish Action main Aa gai to……….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.