Breaking News Dehradun Latest News Uttarakhand Viral News

उत्तराखण्ड: लॉक डाउन में फर्जी दारोगा बनकर लोगों को ठगा, आर्थिंक तंगी से था परेशान

चंद्रशेखर जोशी।
थाना कैंट पर मंगलवार को वादी मुकदमा हेमंत अग्रवाल पुत्र जुगल किशोर निवासी थाना कैंट जिला देहरादून द्वारा लिखित सूचना देकर तहरीर कराया कि दिनांक 24/03/20 को शाम के समय उसके व उसके साथियों के साथ लॉकडाउन का फायदा उठाकर एक अज्ञात बहरूपिया, जिसके द्वारा उत्तराखंड पुलिस के सब इंस्पेक्टर की वर्दी पहनी गई थी, चालान के बहाने पैसे ठग लिए गए। इस बहरूपिया द्वारा अनार वाला सर्किट हाउस क्षेत्र में भी अन्य पीड़ितों के साथ इसी तरह धोखाधड़ी कर पैसे ठगे गए हैं। उपरोक्त घटना गंभीर प्रकृति की होने के कारण *मुकदमा अपराध संख्या 59 / 20 धारा 420/170 आईपीसी मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की गई तो चौंकाने वाली बात सामने आई थी। वहीं आरोपी को गिरफ्तार कर उसके पास से पैसे भी बरामद किए गए हैं। पुलिस ने बताया कि उसका भाई पंजाब में सरकारी महकमे में है और उसने बताया कि उसे घर चलाने में दिक्कत हो रही थी। इसलिए उसने ये काम किया है।

—————————————
विवेचना ग्रहण करते हुए मुकदमे के विवेचक द्वारा उक्त प्रकरण उत्तराखंड पुलिस की छवि से संबंधित होने के कारण होने के कारण *पुलिस उपमहानिरीक्षक /वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद देहरादून के निर्देशन में मामले की गंभीरता के दृष्टिगत अज्ञात व्यक्ति की तलाश हेत *पुलिस अधीक्षक नगर * व *क्षेत्राधिकारी मसूरी* के निकट पर्वेक्षण में टीम गठित कर सर्विलांस और मुखबिर से समन्वय स्थापित करते हुए दिनांक *25/03/2020 को *प्रभारी कोतवाली कैंट* * के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा सभी संभावित स्थानों पर तलाश करते हुए थाना कैंट क्षेत्र से अभियुक्त को घटना में प्रयुक्त स्कूटी ओर आम जनता से ठगे हुए *कुल ₹ 4100/-* के साथ उत्तराखंड पुलिस के उपनिरीक्षक की संपूर्ण वर्दी पहने हुए गिरफ्तार किया गया।

*नाम पता अभियुक्त*

*(1) *राजेन्द्र उर्फ राजन पुत्र गुरुदयाल निवासी पुराना दाना मंडी मोगा पंजाब हाल निवासी थाना कैंट जनपद देहरादून*
उम्र 32वर्ष*

*पूछताछ विवरण*
अभियुक्त द्वारा पूछताछ पर बताया कि मेरा भाई करणवीर सिंह राजपूत नारकोटिक विभाग में है, जो कि पंजाब में है। मैंने यहां लोकल में एक लड़की से शादी कर ली है परंतु मेरे पास घर चलाने के लिए पैसे नहीं थे इसलिए मैंने कुछ समय पूर्व उत्तराखंड पुलिस के उप निरीक्षक की वर्दी खरीदी और कर्फ्यू का फायदा उठाकर लोगों को पुलिस का भय दिखाकर चालान के बहाने लोगों से पैसे ठगे, आज भी मैं लोगों से पैसे ठग रहा था कि पकड़ा गया।

*बरामद माल*
*(1) स्कूटी एक्टिवा रजिस्ट्रेशन नंबर UK07 BK 8031(घटना में प्रयुक्त)*
*(2)उत्तराखंड पुलिस के सब इंस्पेक्टर की पूर्ण वर्दी मय नेम प्लेट*
*(3)*पीडितो से ठगे गए 4100रु*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.