Breaking News Latest News Uttarakhand

अब प्रेम नगर आश्रम पुल कहलाएगा अग्रसेन सेतू, घाट का नाम भी बदला

चंद्रशेखर जोशी।
प्रेम नगर आश्रम पुल के नाम से पुकारे जाने वाला मध्य हरिद्वार—कनखल को जोडने वाला प्रमुख पुल अब महाराजा अग्रेसन सेतू के नाम से जाना जाएगा। वैश्य समाज की ओर से इस पुल का नाम महाराज अग्रेसन सेतू कर दिया गया है। साथ ही पुल से लगने वाले घाट को भी अब अग्रसेन घाट के नाम से जाना जाएगा। पहले से प्रेम नगर आश्रम घाट कहा जाता था। हालांकि आश्रम की ओर का गंगा घाट अभी भी प्रेम नगर आश्रम घाट की बना रहेगा।लेकिन घाट का शुरूआती हिस्सा अब प्रेम नगर आश्रम घाट की जगह महाराजा अग्रसेन घाट कहलाएगा।

 

 


अग्रवाल कल्याण समिति पंचपुरी के अध्यक्ष रामबाबू बंसल ने कहा कि सेतू व घाट का विधिवत रूप से उद्घाटन कर दिया गया है निश्चित तौर पर क्षेत्र के लोगों को सुविधायें मिलेगी। समाज सेवी और महामंत्री विशाल गर्ग ने कहा कि महाराज अग्रसैन घाट नया हरिद्वार पर स्वच्छ सुन्दर घाट को रखने के लिए लगातार समिति के प्रयास जारी है। गंगा स्वच्छता को लेकर कई प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सामाजिक क्षेत्र में समिति लगातार कार्य करती चली आ रही है। समाजसेवा ही सबसे बड़ा धर्म कहलाता है। घाट पर लगातार श्रद्धालु स्नान के लिए पहुंचते हैं। सभी को घाट पर सुविधायें मिल रही है।

 

 

पार्थ अग्रवाल, राजेश गुप्ता ने जानकारी दी कि सेतू उद्घाटन के साथ-साथ हवन पूजन किया गया उन्होंने सभी अतिथियों का आभार जताया और कहा कि आगे भी समाज सेवा से जुड़े कार्यो को संचालित रखा जायेगा। क्षेत्र के लोगांे द्वारा इस प्रयास की सराहना लगातार की जा रही है।

 

 

इस अवसर पर महावीर प्रसाद अग्रवाल, ओमप्रकाश बृजवासी, पराग गुप्ता, अरविन्द कुमार, विकास गर्ग, आशीष मित्तल, सुधीर गुप्ता, प्रदीप चैधरी, राजीव गुप्ता, अरूण अग्रवाल, गिरीश अग्रवाल, आर्य गुप्ता, संजय गर्ग, जी0डी0 मित्तल, रूपेश वालिया, दीपक संघल, गोपाल शर्मा आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.