Haridwar

दो हजार दंडी साधुओं की मदद को आगे आए जूना अखाड़े के श्रीमहंत विनोद गिरी महाराज

विक्की सैनी।
लाॅकडाउन में गरीब, निराश्रितों के लिए निंरतर भोजन सेवा संचालित कर रहे बाबा अमीर गिरी धाम के परमाध्यक्ष व जूना अखाड़े के अंतर्राष्ट्रीय संगठन मंत्री श्रीमहंत विनोद गिरी महाराज ने शनिवार को भी सेवा कार्य जारी रखते हुए बाबा अमीर गिरी घाट पर दो हजार दण्डी साधु व साध्वियों को भोजन कराया। साथ ही उन्हें हर संभव मदद का आश्वासन भी दिया।
इस दौरान उन्होंने कहा कि परोपकार से ही संतो की पहचान है। लाॅकडाउन के चलते भिक्षा पर निर्भर रहने वाले गरीब साधुओं व असहाय लोगों के सामने खाने का संकट गहरा गया है। संत समाज लगातार सेवा प्रकल्पो के द्वारा समाज की सेवा करता आ रहा है। लाॅकडाउन होने के बाद से ही हरिद्वार में संतो द्वारा गरीबों की सेवा की जा रही है। सभी को बढ़चढ़ कर इस संकट की घड़ी में मदद के लिए आगे आना चाहिए। क्यांेकि मिलजुल कर ही निराश्रितो की सेवा की जा सकती है।
उन्होंने कहा कि सनातन धर्म व भारतीय संस्कृति में सेवा का विशेष महत्व है। साध्वी गंगा गिरी महाराज ने कहा कि लाॅकडाउन के बाद हरिद्वार के संत समाज ने सेवा कार्यो की जो पहल की है उससे गरीब व मजदूर वर्ग को बहुत राहत मिली है। श्रीमंहत विनोद गिरी महाराज लगातार अन्नक्षेत्र के माध्यम से भूपतवाला क्षेत्र में बड़ी संख्या में गरीब लोगों की मदद कर रहे है। शनिवार को भी घाट पर रहने वाले साधु व साध्वियों को भोजन के साथ दक्षिणा प्रदान कर उनकी आर्थिक मदद भी की गई।
उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन का पालन करते हुए घरों में रहकर ही कोरोना वायरस को पराजित किया जा सकता है। इसलिए सभी को घरों में रहकर सरकार के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए अपना सहयोग प्रदान करना चाहिए। इस अवसर पर साध्वी सुनयना गिरी, स्वामी राजेश गिरी, पहलवान बाबा, स्वामी कृष्ण गिरीक, साध्वी आशा मुनि, महंत राकेश गिरी, स्वामी श्यामगिरी, स्वामी बलवान गिरी, साध्वी सुमन गिरी, राजेश लखेड़ा, सत्यप्रकाश जखमोला, अमित कुमार, मुन्नी गिरी, धरमवीर, मोहित, सेवक गिरी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.