Breaking News Haridwar Latest News Uttarakhand

लोकसभा चुनाव नहीं लडेंगे हरीश रावत, किशोर उपाध्याय की भी ली फिरकी, देखें वीडियो

चंद्रशेखर जोशी।
पूर्व सीएम हरीश रावत 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में चुनाव नहीं लडेंगे। हरिद्वार में पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने इसकी ओर इशारा किया है।
गौरतलब है कि वो 2009 में हुए लोकसभा चुनाव में हरिद्वार सीट से सांसद चुने गए थे। इसके बाद वो मंत्री भी बने और बाद में प्रदेश के सीएम बने। पिछला लोकसभा चुनाव उनहोंने अपने पत्नी रेणुका रावत को लडाया था लेकिन वो रमेश पोखरियाल निशंक से हार गई थी।
​विधानसभा चुनाव हारने के बाद हरीश रावत की हरिद्वार में सक्रियता बढी है। उन्होंने हरकी पैडी पर दो बार उपवास कर लिया है। साथ ही लक्सर में किसानों के उपवास में शामिल होने के अलावा कई कार्यक्रमों में भाग ले रहे हैं।
इसे उनकी लोकसभा चुनाव की तैयारी माना जा रहा था। लेकिन उन्होंने लोकसभा चुनाव लडने से इनकार कर दिया है।
लोकसभा चुनाव लडने के संबंध में सवाल पूछने पर उन्होंने कहा कि मैं अब इतना ताकतवर और सामर्थवान नहीं रहा हूं। मैं नहीं चाहता हूं कि जिस सक्रिय हरीश रावत को हरिद्वार की जनता ने देखा है उसे इस हरीश रावत को देखकर निराशा हाथ लगे। लिहाजा आपको उस बात से निश्चिंत रहना चाहिए। हालांकि उन्होंने 2022 के विधानसभा चुनाव में अपनी भूमिका के बारे में बात करने से गुरेज नहीं की।
उन्होंने कहा कि मैं चाहता हूं कि कांग्रेस को दोबारा प्रदेश की सत्ता में लाने के लिए मैं 2022 तक जवान बना रहूं। इसके लिए मैं पूरी कोशिश भी कर रहा हूं।
लिहाजा, उनकी बातों से साफ है कि हरीश रावत लोकसभा चुनाव के बजाए अपना पूरा ध्यान विधानसभा चुनाव पर ही रखना चाहते हैं।

उन्होंने पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय पर भी तंज कसते हुए कहा कि हमारे अध्यक्ष महोदय दार्शनिक टाइप के व्यक्ति हैं और ऐसे लोगों का समाज में होना बेहद जरूरी है। ऐसे लोगों से विविधता बनी रहती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.