कांग्रेस दावेदारों से पूछ रही भाजपा विधायक की पांच कमियां, पढ़िए विधायक आवेदन फॉर्म के सारे सवाल

विकास कुमार।

उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव की तैयारियों के मद्देनजर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने प्रत्येक विधानसभा में संभावित दावेदारों की सूची तैयार करना शुरू कर दिया है इस क्रम में सभी दावेदारों से आवेदन फॉर्म भरने के लिए कहा जा रहा है जिसमें दावेदारों से कई सवालों के जवाब मांगे गए हैं ताकि दावेदारों की विधानसभा में पकड़ और समाज को समझा जा सके आवेदन फॉर्म के बाद तमाम दावेदारों की स्कूटनी की जाएगी जिसके बाद टिकट फाइनल किए जाएंगे

प्रत्येक विधानसभा सीट से सभी दावेदारों को यह फॉर्म भर कर प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव के ऑफिस में जमा करना होगा। विधायक आवेदन फार्म के जरिए विधानसभा चुनाव के लिए दावेदारों से जो प्रश्न पूछे गए हैं उनमें प्रमुख तौर पर विधानसभा में बूथ कार्यकर्ताओं के नाम व नंबर, सेवादल, किसान, युथ महिला और अन्य अनुषांगिक संगठनों के पदाधिकारियों के नाम। दावेदार की विधानसभा से बीजेपी के वर्तमान विधायक की पांच प्रमुख कमियां। विधानसभा की पांच प्रमुख समस्याएं। ग्राम प्रहरी आशा और बीएलओ और विधानसभा क्षेत्र में हारे और जीते पार्षद, सभासद, ग्राम प्रधान, जिला पंचायत सदस्य और बीडीसी के नाम, कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए कार्यकर्ताओं और नेताओं को वापस लाने की रणनीति के अलावा दावेदारों को अपने राजनीतिक करियर की 5 उपलब्धियां भी बतानी होगी।

वही अपने साथ-साथ विधानसभा से तैयारी कर रहे 5 प्रत्याशियों के नाम भी इस विधायक आवेदन फॉर्म में पूछे गए हैं। यह भी पूछा गया है कि भाजपा के जो लोग पार्टी से नाराज चल रहे हैं उनको कांग्रेस में कैसे लाया जा सकता है। इन सभी सवालों के जवाब देने के बाद भी दावेदारों के की दावेदारी पर विचार किया जाएगा। चुनाव संचालन समिति के प्रदेश सदस्य संजीव चौधरी ने बताया कि पार्टी विभिन्न स्तरों पर सर्वे करवा रही है। ताकि एक बेहतर कैंडिडेट मैदान में उतारा जा सके। आवेदन में दावेदारों से किस तरह के सवाल पूछे गए है। मुझे इस बात की जानकारी नहीं है। लेकिन ये तय है कि सिर्फ मजबूत और जिताऊ कैंडिडेट को ही इस बार पार्टी अपना प्रत्याशी बनाएगी।

खबरों को व्हाट्सएप्प पर पाने के लिए मैसेज करें : 8267937117

Share News
error: Content is protected !!