CM Yogi Adityanath took strict decision on shobhayatra and loudspeaker

सीएम योगी आदित्यनाथ के ताजा फैसलों पर हिंदू—मुस्लिम मिलकर उनकी तारीफ कर रहे हैं

रतनमणी डोभाल/विकास कुमार।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आगामी त्यौहारों के सीजन को देखते हुए उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था बनाए रखने को लेकर कई महत्वपूर्ण आदेश जारी किए हैं। इन सरकारी फरमानों के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ की चौतरफा तारीफ हो रही है। हिंदू और मुसलमाना दोनों ही समुदायों के लोग ​सोशल मीडिया पर इन आदेशों को लेकर बाबा की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। गौरतलब है कि जहां देश के विभिन्न राज्यों में साम्प्रदायिक टकराव देखने को मिला है। वहीं उत्तर प्रदेश जैसे बड़े राज्य में रमजान और नवरात्र जैसे बड़े धार्मिक आयोजनों पर शांति व्यवस्था कायम रही है। CM Yogi Adityanath took strict decision on shobhayatra and loudspeaker law and order situation in Uttar Pradesh

———————————
क्या हैं योगी आदित्यनाथ के आदेश
सीएम योगी आदित्यनाथ ने शांति और कानून व्यवस्था के मद्देनजर चार मई तक सभी थानाध्यक्ष, सीओ और पुलिस कप्तान से लेकर जिलाधिकारी मंडलायुक्त तक सभी प्रशासनिक/पुलिस अधिकारियों के अवकाश तत्काल प्रभाव से निरस्त कर दिए हैं। साथ ही जो अवकाश पर हैं उन्हें अगले 24 घंटें के भीतर तैनाती स्थल पर वापस आने के आदेश दिए गए हैं। यही नहीं तहसीलदार, एसडीएम, थानाध्यक्ष अथवा सीओ आदि सभी को अपनी तैनाती के क्षेत्र में ही रात्रि विश्राम के लिए बोला गया है।

—————————————
यूपी में बिना अनुमति जुलूस शोभायात्रा नहीं, शांति—सौहार्द का देना होगा शपथ पत्र
आदेश के मुताबिक कोई शोभायात्रा/धार्मिक जुलूस बिना विधिवत अनुमति के न निकाली जाए। अनुमति से पूर्व आयोजक से शांति-सौहार्द कायम रखने के संबंध में शपथ पत्र लिया जाए। अनुमति केवल उन्हीं धार्मिक जुलूसों को दिया जाए, जो पारंपरिक हों, नए आयोजनों को अनावश्यक अनुमति न दी जाए। यही नहीं धार्मिक कार्यक्रम, पूजा-पाठ आदि निर्धारित स्थान पर ही हों। यह सुनिश्चित करें कि सड़क मार्ग, यातायात बाधित कर कोई धार्मिक आयोजन ना किया जाए।

————————
लाउडस्पीकर पर क्या बोले बाबा
धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर के प्रयोग पर आदेश जारी करते हुए सीएम योगी ने कहा कि सभी को अपनी उपासना पद्धति को मानने की स्वतंत्रता है और इसके लिए माइक का प्रयोग किया जा सकता है, लेकिन यह सुनिश्चित हो कि माइक की आवाज़ उस परिसर से बाहर न आए। अन्य लोगों को कोई असुविधा नहीं होनी चाहिए। साथ ही नए स्थलों पर माइक लगाने की अनुमति ना दी जाए।

———————————
दंगाईयों और असमाजिक तत्वों पर सख्ती से निपटें
शरारतपूर्ण बयान जारी करने वालों के साथ कड़ाई से पेश आएं। माहौल खराब करने की कोशिश करने वाले अराजकतत्वों के साथ पूरी कठोरता की जाए। ऐसे लोगों के लिए सभ्य समाज में कोई स्थान नहीं होना चाहिए। यही नहीं शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए थानाध्यक्ष से लेकर एडीजी तक अगले 24 घंटे के भीतर अपने-अपने क्षेत्र के धर्मगुरुओं, समाज के अन्य प्रतिष्ठितजनों के साथ सतत संवाद बनाएं। संवेदनशील क्षेत्रों में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की जाए। ड्रोन का उपयोग कर स्थिति पर नजर रखें। हर दिन सायंकाल पुलिस बल फुट पेट्रोलिंग जरूर करे। पीआरवी 112 एक्टिव रहें।

———————————————
सीएम योगी की तारीफ में क्या बोल रहे हैं लोग
सरकार के फैसलें का समर्थन करते हुए सैयद इबाद नदवी लिखते हैं कि ”यूपी में इसी तरह शांति सौहार्द कायम रहा तो यूपी का मुसलमान बाबा जी को खुल कर वोट करेगा”। एक दूसरे यूजर आशीष मिश्र लिखते हैं कि ”जबरदस्त इसलिए बाबा जरुरी है”। अब्दुल समद लिखते हैं ”सर जी बहुत अच्छा फैसला है ऐसा ही सीएम चाहिए हर राज्य में सर जी आप जैसा सीएम होगा तो कहीं भी झगड़ा नहीं होगा”। प्रशांत सक्सेना लिखते हैं”बहुत ही महत्वपूर्ण और सही समय पर लिया गया निर्णय”। इस तरह के मैसेज दोनों ही ओर से बडी संख्या योगी आदित्यनाथ के समर्थन में लिखे जा रहे हैं।

Share News
error: Content is protected !!