क्रिस्टल वर्ल्ड कर्मचारियों ने मेरठ के पर्यटकों को पीटा, कांग्रेस विधायक बोले आंदोलन होगा

विकास कुमार/अतीक साबरी।
हरिद्वार—दिल्ली हाईवे पर बहादराबाद में क्रिस्टल वर्ल्ड वॉटर पार्क में मामूली बात को लेकर मेरठ के यात्रियों और पार्क के कर्मचारियों में मारपीट हो गई। आरोप है कि मेरठ के यात्रियों को कर्मचारियों ने बुरी तरह पीटा और यहां तक की गर्भवती महिला से भी अभद्रता की गई। वहीं क्रिस्टल वर्ल्ड प्रबंधन का कहना है कि यात्रियों ने शराब पी हुई थी, मना करने पर विवाद हुआ। उधर, स्थानीय कांग्रेस विधायक रवि बहादुर ने क्रिस्टल वर्ल्ड प्रबंधन को आडे हाथों लेते हुए दो टूक कहा कि पार्क के बाहर ही शराब का बार खोला हुआ और फिर शराब को लेकर हंगामा भी कर रहे हो। उन्होंने कहा कि वॉटर पार्क में बच्चे और महिलाएं भी आती हैं और अगर बार बंद नहीं हुआ तो आंदोलन किया जाएगा, क्रिस्टल वर्ल्ड की मनमानी नहीं चलने दी जाएगी।

———————————
क्या था मामला
मेरठ के गांव ग्राम हद्दीवाला निवासी रूचिन चौधरी अपने परिवार के साथ क्रिस्टल वर्ल्ड आए थे। इस दौरान परिवार में शामिल एक युवक दीवार पर चढ़कर पूल में कूद रहा था, इस दौरान वहां मौजूद रहे सिक्योरिटी गार्ड ने जिस पर एतराज जताते हुए पूल से बाहर निकलने की बात कही।
युवक पूल से बाहर आ गया। आरोप है कि पूल से बाहर आते ही सिक्योरिटी गार्ड ने युवक केा तमाचा जड़ दिया। युवक के विरोध करने पर आस पास से अन्य सिक्योरिटी गार्ड भी एकत्र होकर पहुंच गए, आरोप है कि जिन्होंने युवक को एक पेड़ के नीचे ले जाकर बेरहमी से पीटा। इतना ही नहीं परिवार के दो अन्य युवकों ने बीच बचाव करना चाहा, उन्हें भी बुरी तरह पीटा गया। इस दौरान वीडियो बना रहे रूचिन चौधरी के हाथ से मोबाइल फोन छीनकर उसे तोड़ दिया। आरोप है कि रूचिन की गर्भवती पत्नी से भी अभद्रता की गई। जिसके बाद पार्ककर्मियों की सूचना पर पहुंची बहादराबाद पुलिस युवकों को पकड़कर थाने ले आई।

——————————————————————————————
विधायक से मदद मांगी तो निपटा मामला
पीडित परिवार ने अपने परिचित के माध्यम से कांग्रेस विधायक रवि बहादुर से संपर्क किया। इसके बाद विधायक थाने पहुंचे क्रिस्टल पार्क प्रबंधन को पहले अपने बार को बंद करने के लिए कहा। हालांकि बाद में दोनों पक्षों की ओर से कोई शिकायत नहीं आई और मामला रफा दफा कर दिया गया। लेकिन विधायक रवि बहादुर ने कहा कि पार्क के बाहर ही जब बार होगा तो पर्यटक शराब पीकर अंदर जाएगा। पार्क प्रबंधन ही गलत कर रहा है। जल्द ही जिलाधिकारी से मिलकर इसे बंद कराने का प्रयास किया जाएगा और अगर नहीं हुआ तो आंदोलन करने से भी पीछे नहीं हटा जाएगा।

Share News
error: Content is protected !!