friend arrested for killing his friend to give poison in uttarakhand

हत्या: मां पर थी दोस्त की बुरी नजर, जहर देकर मार डाला, पूरी रात तड़पता देखता रहा

विकास कुमार/ अतीक साबरी।
उधम सिंह नगर के सिडकुल क्षेत्र में ढाई महीने पहले 26 साल के पीयूष राणा पुत्र सुनील राणा निवासी खटीमा उधम सिंह नगर की हत्या का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने पीयूष राणा के दोस्त अभिषेक राणा पुत्र पूरण सिंह निवासी खटीमा उधम सिंह नगर को गिरफ्तार किया है। एसएसपी उधम सिंह नगर मंजूनाथ टीसी और एसपी मनोज कत्याल व सीओ रुद्रपुर अभय सिंह ने वारदात का खुलासा करते हुए बताया कि अभिषेक राणा वारदात के दिन पीयूष राणा के किराए के कमरे पर मिलने आया था और खाने में सल्फास जहर मिला दिया था, जिसे खाकर पीयूष राणा की मौत हुई थी। friend arrested for killing his friend to give poison in uttarakhand


पीयूष की थी अभिषेक की मां पर बुरी नजर, इसलिए मारा
सीओ रुद्रपुर अभय सिंह ने बताया कि पीयूष और अभिषेक दोस्त थे। अभिषेक के पिता का देहांत बचपन में ही हो गया था, इसके बाद उसकी मां ने उसे पाला। अभिषेक अपनी मां से बेहद प्यार करता था और पीयूष अक्सर उसकी मां के बारे में गलत बाते करता था और उसकी मां पर बुरी नजर भी रखता था। इससे अभिषेक परेशान रहता था और इसी कारण अभिषेक ने पीयूष से बदला लेने की योजना बनाई। पीयूष सिडकुल में अपने दोस्त सोनू के साथ किराए के कमरे में रहता था। अभिषेक दो मई को पीयूष के कमरे पर गया और वहां खाने बनाने के दौरान उसके खाने में जहर मिला था और खुद खाना नहीं खाया।


पीयूष को रात पर तडपता देखता रहा
अभिषेक रात को कमरे में ही रुका और पीयूष को रात भर तडपता देखता रहा और उसकी मदद नही की। सुबह वो कमरे से चला गया और रात में जब पीयूष का दोस्त सोनू आया तो उसने पीयूष को मरा देखा। सीओ रुद्रपुर अभय सिंह ने बताया कि घटना के दिन ही मामला संदिग्ध लग रहा था। पोस्टमार्टम में भी कुछ खास नहीं आया था लेकिन विसरा में जहर की पुष्टि हो गई थी अब सवाल ये था कि जहर खुद खाया या खिलाया गया। घटना स्थल की जांच के आधार पर साफ था कि पीयूष को जहर दिया गया है। लिहाजा सारे सबूत हाथ में लेने के बाद अभिषेक को पूछताछ के लिए बुलाया गया और अभिषेक ने पीयूष की हत्या की बात कबूल कर ली।

Share News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!