army man arrested for killing a trader for revenge

हत्या: बहन की आत्महत्या और अपमान से आहत फौजी भाई ने की व्यापारी की हत्या, उत्तराखण्ड का मामला

विकास कुमार/अतीक साबरी।
अपनी नाबालिग बहन की आत्महत्या और व्यापारी की छींटाकशी से परेशान फौजी ने व्यापारी की हत्या कर दी। मामला नैनीताल जनपद के रामनगर इलाके का है जहां पिछले दो दिन से लापता व्यापारी सोहेल सिद्दीकी की तलाश कर रही पुलिस को उसकी हत्या के बारे में पता चला। पुलिस ने सोहेल का शव बरामद कर आरोपी फौजी को गिरफ्तार कर लिया। जबकि उसका दोस्त फरार है।


बहन ने शोषण के बाद की थी आत्महत्या
नैनीताल पुलिस ने बताया कि सुहैल सिद्दीकी चोरपानी में स्टेशनरी की दुकान चलाता था जहां आरोपी भरत आर्य का भी उसके पास आना-जाना था। इसी तरह सुहैल का भरत आर्य की छोटी बहन जो नाबालिग थी, से संबंध बन गए। आरोप है कि सुहैल ने प्यार का झांसा देकर उसका शोषण किया और जब उसने शादी करने की बात कही तो शादी से इनकार कर दिया। इसके बाद किशेारी ने जहर खाकर जान दे दी। तभी से भरत आर्य सुहैल से रंजिश रखता था।
पुलिस ने ये भी बताया कि सुहैल अक्सर आत्महत्या की घटना को लेकर भरत आर्य पर टोंटबाजी और छींटाकशी करता था। हालांकि तब उसने गरीबी और कमजोरी के कारण कुछ नहीं किया, लेकिन जब उसकी फौज में नौकरी लग गई तो उसने अपने अपमान का बदला लेने के लिए सुहैल की हत्या की साजिश रची।


कैसे की हत्या
हत्या के लिए भरत आर्य ने अपने दोस्त दिनेश टम्टा पुत्र भोपाल राम निवासी नारायणपुर मूल्या रामनगर को राजी किया और दोनों दो अगस्त को अपनी एल्टो कार से सुहैल की दुकान से कोटद्वार रोड की तरफ करीब 200 मीटर मोड़ पर नहर के किनारे पहुंचे एल्टो कार वहीं पर खड़ी कर दोनों सुहैल के आने का इन्तजार करने लगे। कुछ समय बाद सोहेल अपनी मोटर साइकिल प्लेटिना से जैसे ही हमारे पास पहुंचा तो दोनों ने सुहैल की मोटर साइकिल पर टक्कर मार दी जिससे सुहैल नहर पटरी पर गिर गया उसके सिर पर चोट आ गयी। सोहेल खडे होने का प्रयास करने लगा तो दोनों ने गाड़ी में रखे लोहे के रोडों से उसके सिर पर तेज प्रहार किये जिससे मौके पर ही सोहेल की मौत हो गयी ।
फिर हम दोनों ने सोहेल की लाश को मेरी अल्टो कार में रख कर मैं कार चला कर ले गया और सुहैल की मोटर साइकिल नं0 यू के 04 एल 4832 दिनेश चलाकर ले गया , मैने घटना में प्रयुक्त रॉड रास्ते में फैक दिया औऱ सुहैल का मोबाइल फोन आधार कार्ड पर्स नहर के तेज बहाव में फैक दिये । हम दोनों सुहैल की लाश को लेकर कानिया चौराहे से मालधन चौड़ होते हुए काशीपुर के रास्ते मुरादाबाद काठ रोड में छजलेट थाना क्षेत्र में सड़क के किनारे पहुंचे वहाँ पर हमने सुहैल की मो0सा0 चाबी सहित सड़क के किनारे झाडियो में फैक दी औऱ अल्टो में बैठकर सुहैल की लाश को मो0सा0 रखने की जगह से करीब 500 मी0 आगे जाकर मैन रोड से बायी तरफ जाने वाले रास्ते में करीब 200 मी0 अन्दर जाने के बाद गन्ने के खेत में फैक दिया औऱ लाश की पहचान छुपाने के लिए अपने पास प्लास्टिक की बोतल में रखे पैट्रोल को लाश के चेहरे पर छिड़ककर आग लगा दी औऱ उसके बाद हम दोनो वापस रामनगर आ गये।

खबरों को व्हटसएप पर पाने के हमारे व्हटसएप ग्रुप से जुडे क्लिक करें

Share News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!