two upper caste boys arrested for suing fake caste certificate to get government job in CISF

बेरोजगारी: सरकारी नौकरी के लिए ब्राह्मण—राजपूत लड़के बन गए दलित, हुए गिरफ्तार

विकास कुमार।
सरकारी नौकरी के लिए ब्राह्मण और राजपूत जाति से आने वाले दो लड़कों ने फर्जी एससी/एसटी कास्ट सर्टिफिकेट का सहारा लिया लेकिन जांच में दोनों का फर्जीवाडा सामने आ गया। दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इनमें से एक यूपी का रहने वाला है जबकि दूसरा राजस्थान का निवासी है। two upper caste boys arrested for suing fake caste certificate to get government job in CISF

————————————————
क्या है पूरा मामला
असल में सीआईएसएफ की हरिद्वार यूनिट में कांस्टेबल भर्ती चल रही है। इसके लिए ​फिजिकल टेस्ट हो रहा है। इस दौरान उम्र और हाइट में छूट पाने के लिए धीरज कुमार पुत्र दाऊ दयाल निवासी सतुपुरा इरादनगर थाना इरादनगर जिला आगरा उत्तर प्रदेश उम्र 27 वर्ष और सतेंद्र पुत्र रामहंस निवासी अंडेला रोड धौलपुर थाना सदर जिला धौलपुर राजस्थान उम्र 26 खुद को अनुसूचित जाति का बताया और फर्जी कास्ट सर्टिफिकेट जमा कर दिए। लेकिन, जांच के दौरान सीआईएसएफ के कर्मचारियों ने इनका फर्जीवाडा पकड लिया और दोनों को रानीपुर पुलिस के हवाले कर दिया। दोनों ने पूछताछ में बताया कि उनकी आयु ज्यादा हो रही थी और आयु में छूट पाने के लिए दोनों ने फजी जाति प्रमाण पत्र का सहारा लिया। वहीं पुलिस ने सीआईएसएफ की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।

Share News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!