Kaliyar vidhansabha what voter think for parties

कलियर की जनता के दिल में क्या है, क्या हैं यहां के मुद्दे, किससे निराश है जनता

अतीक साबरी, कलियर।
कलियर विधानसभा में कांग्रेस के विधायक फुरकान अहमद चुनाव लड रहे हैं। यहां से भाजपा के मुनीष सैनी, आप के शादाब और आजाद समाज पार्टी के वाहिद उर्फ भूरा प्रधान हैं। वहीं बसपा से भी सैनी उम्मीदवार मैदान में हैं। कलियर धार्मिक स्थल हैं और यहां मूलभूत सुविधाओं का घोर अभाव है। क्या सोचती है कलियर विधानसभा की जनता इस बारे में हमने कलियर की जनता से बात की।

—————————————
क्या है यहां के मुद्दे
कलियर निवासी शाकिब, जमीन, शौकत, अजमत, शादाब आदि ने बताया कि कलियर में सीवर ट्रीटमेंट प्लांट नहीं है। जिसके कारण यहां सीवर की बडी समस्या है। यहां साफ पानी और सफाई—व्यवस्था का बुरा हाल है। धार्मिक स्थल होने के बावजूद भी कलियर को आज तक पांचवां धाम नहीं बनाया गया। ना ही कलियर की सुध ली गई। इसके अलावा ​कलियर में डिग्री कॉलेज नहीं है। शिक्षा के अच्छे संस्थान नहीं है। अस्पताल भी नहीं है। जिसके कारण लोगों को शिक्षा स्वास्थ्य के लिए रुडकी या हरिद्वार का रुख करना पडता है। कलियर विश्व प्रसिद्ध नगरी है बावजूद इसके कलियर की व्यवस्था बहुत ही ज्यादा निराश करने वाली है। जलभराव भी एक बडी समस्या है।

———————————————
किससे निराश है कलियर की जनता
नसीर, आमिर, राशिद, तौकीर, यामीन व यासीन आदि ने बताया कि कलियर में दो बार से कांग्रेस के फुरकान अहमद विधायक है। हालांकि उन्होंने अपनी विधायक निधि से जो कुछ कराना था कराया है लेकिन कलियर जैसे धार्मिक स्थल के लिए वो कोई बडी योजना लाने में कामयाब नहीं हो पाए। इसके अलावा भाजपा ने भी कभी कलियर की सुध नहीं ली। वहीं इस बार आप के शादाब व आजाद समाज पार्टी के वाहिद प्रधान व अन्य निर्दलीय मैदान में हें। लेकिन ये भी विकास से ज्यादा जातीय गणित की बात कर रहे हैं। जनता को लुभाने सभी मतदाताओं के बीच जा रहे हैं। लेकिन जनता के मुद्दे उठाने में ये सभी खाली ही दिख रहे हैं। चुनाव के समय सब नेता आते हैं लेकिन चुनाव हारने के बाद लापता हो जाते हैं। अगर राजनीति करनी है तो पांच साल ये जनता के बीच क्यों नहीं रहते हैं।

खबरों को वाट्सएप पर पाने के लिए हमे मैसेज करें : 8267937117

Share News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!