Congress is not trustworthy says BSP head mayawati on rahal gandhi statement

राहुल की सीएम की पेशकश वाले बयान पर मयावाती बोली कांग्रेस भरोसे के लायक नहीं, क्या कुछ कहा

विकास कुमार/ऋषभ चौहान।
बसपा प्रमुख मायावती ने राहुल गांधी पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि उन्हें कांग्रेस ने चुनाव से पहले उनसे ना तो बात की और ना ही सीएम बनाने का प्रस्ताव दिया। ये बात पूरी तरह झूठ है। मायावती ने कहा कि राहुल गांधी का बयान उनकी दलितों और शोषितों के प्रति हीन भावना और जातिवादी सोच दर्शाता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को दूसरी पार्टियों के बजाय अपनी चिंता करनी चाहिए। यूपी चुनाव परिणाम के बाद कांग्रेस की हालत खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे जैसी हो गई है। राहुल गांधी को बसपा के बारे में बोलने से पहले 100 बार सोचना चाहिए।

—————————————
कांग्रेस विश्वास के लायक पार्टी नहीं
उन्होंने कहा कांग्रेस ने सरकार में रहते हुए दलितों के कोई काम नहीं किया। बाबा भीमराव अंबेडकर से लेकर उनके अनुयायी और बसपा के साथ हमेशा धोखेबाजी वाली रणनीति अपनाई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस विश्वास के लायक पार्टी नहीं है। उन्होंने राहुला गांधी से सवाल करते हुए कहा कि पिछली बार भाजपा को रोकने के लिए कांग्रेस ने सपा से समझौता किया था, तब क्या हुआ था। इसका जवाब भी देना चाहिए। Congress is not trustworthy says BSP head mayawati on rahal gandhi statement

——————————————
राहुल पर कसा तंज, हम जगहसाई नहीं कराते
उन्होंने राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि हम वो पार्टी नहीं हैं जिसका नेता प्रधानमंत्री को संसद में जबरन गले लगाता है और न ही हमारा पूरी दुनिया में मजाक उड़ाया जाता है। उन्होंने भाजपा पर हमला करते हुए कहा कि भाजपा भारत को कांग्रेस मुक्त ही नहीं बल्कि विपक्ष मुक्त बना रही है। भाजपा की कोशिश चीन की तरह भारत में भी एक पार्टी का शासन स्थापित करना है। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को मात्र दो सीटें और 2.5 फीसदी वोट मिले। कांग्रेस के 97 प्रतिशत उम्मीदवार अपनी जमानत भी नहीं बचा सकें। वहीं बसपा को केवल एक सीट और करीब 13 फीसदी वोट मिले। उसके करीब 72 फीसदी प्रत्याशी जमानत गंवा बैठे।

Share News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!