Breaking News Haridwar Latest News Uttarakhand

महंगा सामान बेच रहे हैं दुकानदार, इन नंबरों पर कर सकते हैं शिकायत, घबराएं नहीं

एमएस नवाज।
21 दिनों के लॉकडाउन के बाद बुधवार को सुबह सात से दस बजे तक आवश्यक सामानों की दुकानों पर लोगों का तांता लग गया। स्थानीय लोगों का आरोप है कि दुकानदारों ने आटा—दाल और अन्य जरूरी सामानों के दामों में इजाफा कर दिया है। कुद जगह पांच किलो आटे के पैकेट पर बीस से पच्चीस रुपए मिलने की सूचनाएं भी आई। जबकि चीनी और अन्य सामानों के दामों में भी इजाफा देखा गया। हालांकि, प्रशासन ने पहले ही ओवर प्राइसिंग और जमाखोरी व कालाबाजारी को लेकर छापामार दल बनाए गए हैं। लेकिन, जमीन पर अभी भी ठोस कार्रवाई की जानी बाकी। ताकि, लोगों को विश्वास दिलाया जा सके। हालांकि एक बार फिर बुधवार को प्रशासन ने पर्याप्त भंडारण होने और लोगों को संयम बरतने की अपील की है।
—————
खाद्य पूर्ति विभाग ने की छापामारी
महंगा सामान मिलने की सूचना पर खाद्य पूर्ति अधिकारी केके अग्रवाल ने बताया कि ​जनपद में छह टीमें छापा मारने के लिए बनाई गई हैं। बुधवार को कई जगह छापा मारा गया है। उन्होंने बताया कि कनखल ज्वालापुर, रूडकी और लक्सर में छापमारी की गई है। हालांकि क्या कार्रवाई की गई, इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है। उन्होंने बताया कि कनखल में एक दुकानदार के यहां शिकायत पर छापा मारने हमारी टीम पहुंची थी, लेकिन दुकानदार दुकान बंद कर भाग गया। उन्होंने कहा कि सभी एसडीएम और सिटी मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में छापामार दल बनाए गए हैं।
—————
कालाजाबारी—जमाखोरी, ओवर प्राइसिंग की शिकायत इन नंबरों पर करें
अगर आपके इलाकों में भी जमाखोरी या कालाबाजारी या फिर महंगे दाम पर सामान मिल रहा है, तो आप प्रशासन को इन नंबरों पर सूचना कर सकते हैं। आप भी कर सकते हैं शिकायत ये नंबर हैं हेल्थ कंट्रोल रूम नंबर — 01334—239920 और आपदा कंट्रोल रूम नंबर : 01334—223990, इन नंबरों पर आप भी शिकायत कर सकते हैं। इसके अलावा आप नजदीकी पुलिस स्टेशन पर भी शिकायत कर सकते हैं।

——————
पर्याप्त है खाद्य भंडार
हरिद्वार के जिला प्रशासन ने दावा किया है कि जनपद में पर्याप्त खाद्य भंडार है। किसी को घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने बताया कि एक लाख कुंतल गेंहू, 31 हजार कुंतल चावल और दालें व चीनी भी पर्याप्त मात्रा में हैं। खाद्य पूर्ति अधिकारी ने बताया कि दूसरे राज्यों से सामान लाने वाले वाहनों को भी अब आने की अनुमति मिल गई हैं। ऐसे में किसी को भी घबराने की आवश्यकता नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.