Property in Haridwar हरिद्वार के सबसे बड़े प्रोपर्टी डीलर पर जमीन घोटाले का आरोप, क्या है सच्चाई, पढें पूरी खबर

Property in Haridwar हरिद्वार के सबसे बड़े प्रोपर्टी डीलर पर जमीन घोटाले का आरोप, क्या है सच्चाई, पढें पूरी खबर


Property in Haridwar हरिद्वार के सबसे बड़े और पिछले कुछ समय से सबसे ज्यादा चर्चा में रहने वाले प्रोपर्टी कारोबारी सतीश त्यागी और उनके पुत्र अभिषेक त्यागी पर बहादरबााद के ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान की मदद से करोड़ों रुपए का जमीन घोटाला करने का आरोप लगाया है।

आरोप है कि ग्राम समाज की जमीन कूट रचना कर विनिमय की गई। यही नहीं जमीन पर स्थित बाग को भी केमिकल डालकर सूखाने का आरोप ग्रामीणों ने लगाया। वहीं दूसरी ओर ग्राम प्रधान नीरज चौहान और समाजसेवी मोहन त्यागी ने आरोपों पर जवाब देते हुए कई गंभीर आरोप जमीन घोटाले के आरोप लगाने वाले लोगों पर भी लगाए हैं। क्या है पूरा मामला नीचे तक पढें।

कहां है जमीन Property in Haridwar
प्रेस वार्ता करते हुए भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष दाता राम चौहान ने बताया कि बहादराबाद थाने से लगी हुई करीब एक एकड़ की जमीन किसी प्रवेश कुमार की दूसरी जगह स्थित जमीन से विनिमय कर दी गई। ये जमीन सहारा लैंड से लगी हुई है। चूंकि सहारा की जमीन पर अब प्रोपर्टी कारोबारी सतीश त्यागी अधिराज कुंज कॉलोनी काट रहे हैं।

जमीन का विनिमय ग्राम प्रधान नीरज चौहान ने नियमों को ताक पर रख इसलिए किया गया क्योंकि सतीश त्यागी और उनके पुत्र अभिषेक त्यागी को लाभ पहुंचाना था। ग्रामीणों ने शिकायत पर सुनवाई ना करने का आरोप भी लगाया। वहीं दूसरी ओर डीएम कार्यालय पर धरना देने की बात भी कही।

Property in Haridwar

Property in Haridwar हरिद्वार के सबसे बड़े प्रोपर्टी डीलर पर जमीन घोटाले का आरोप, क्या है सच्चाई, पढें पूरी खबर
Property in Haridwar हरिद्वार के सबसे बड़े प्रोपर्टी डीलर पर जमीन घोटाले का आरोप, क्या है सच्चाई, पढें पूरी खबर

क्या है सच्चाई और हिस्ट्रीशीटर का कनेक्शन
वहीं घोटाले के आरोपों पर प्रधान नीरज चौहान ने आरोप लगाया कि बहादराबाद के दो हिस्ट्रीशीटरों और आपराधिक तत्वों के कहने पर ये झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जमीन का विनिमय हाईवे स्थित जमीन पर किया गया। चूंकि जिस जमीन का विनियम किया गया वो जमीन ग्राम समाज के लिए फायदे की नहीं थी।

इसलिए ग्राम समाज और गांव के लोगों के लिए ही ये विनिमय किया गया। उन्होंने कहा कि सतीश त्यागी और अभिषेक त्यागी के हित में कोई भी अवैध फैसला नहीं किया गया है। वहीं समाजसेवी मोहन त्यागी ने बताया कि जमीन का ​विनिमय नियमानुसार किया गया है। सरकार ने भी इसे सही माना है। ऐसे में झूठे आरोप लगाकर बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है। Property in Haridwar

Share News