azad samaj party is rady to close fight in two seats in uttarakhand

उत्तराखण्ड में खाता खोलने की रेस में पहुंची आजाद समाज पार्टी, कई सीटों पर बदले समीकरण

करण खुराना/विकास कुमार।
आजाद समाज पार्टी ने हरिद्वार में कांग्रेस के टिकट वितरण के बाद दो दिग्गज कांग्रेसी नेताओं को अपने पाले में लाने के बाद नए समीकरण बना दिए हैं। खासतौर पर ज्वालापुर सुरक्षित विधानसभा और लक्सर में आजाद समाज पार्टी दलित—मुस्लिम गठजोड के आधार पर आगे बढ रही है। हालांकि इसमें कितनी सफलता मिलती है ये चंद दिनों में दिख जाएगा। लेकिन फिलहाल ज्वालापुर में एसपी सिंह इंजीनियर और लक्सर में हाजी तसलीम ने मुकाबला त्रिकोणीय बना दिया है। इसके अलावा, रानीपुर, कलियर, मंगलौर और झबरेडा में भी आजाद समाज पार्टी के प्रत्याशी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं।

————————————————
दलितों को एकजुट करने में जुटे एसपी सिंह इंजीनियर
कांग्रेस में रहे दलितों के बडे नेता एसपी सिंह इंजीनियर दलितों को लामबंद कर रहे हैं। इसी क्रम में उन्होंने कांग्रेस और बसपा के कई बडे चेहरों को अपने पाले में कर लिया है। वहीं पुराना चेहरा होने के कारण मुस्लिम मतदाताओं में भी उनका प्रभाव है। एसपी सिंह इंजीनियर पिछला चुनाव भी लडे थे और इस चुनाव में करीबी मुकाबले में हार गए थे। एसपी सिंह इंजीनियर का कहना है कि कांग्रेस, भाजपा दलितों की लीडरशिप पनपने नहीं देती है। दोनों दलों को हां में हां मिलाने वाले नेता चाहिए। उन्होंने कहा कि आजाद समाज पार्टी दलित—मुसिलम, पिछडों, किसानों और मजूदरों की बात करती है और उनके हक के लिए लडाई लडने वाली एक मात्र पार्टी बनकर उभरी है। उन्होंने कहा कि इस बार इन दोनों ही दलों को सबक सिखाया जाएगा।

————————————————
बसपा के बाहरी प्रत्याशी के कारण हाजी तसलीम ने संभाला मोर्चा
वहीं लक्सर में कांग्रेस के बडे नेता हाजी तसलीम को स्थानीय मुस्लिम मतदाताओं का समर्थन मिल रहा है। चूंकि यहां बसपा से मौहम्मद शहजाद मैदान में हैं और उनके बाहरी होने का मुद्दा गरम है। वहीं लक्सर में भीम आर्मी और आजाद समाज पार्टी का समर्थन मिलने के बाद हाजी तसलीम मजबूत हुए हैं। यहां भी मुकाबला त्रिकोणीय हो गया है। हाजी तसलीम ने बताया कि हम लक्सर के सम्मान के लिए लड रहे हैं। एक तरफ भाजपा के कुशासन से लोगों को निजात दिलानी है वहीं दूसरी ओर हमें स्थानीय लोगों का सम्मान कायम रखना है। उन्होंने कहा कि इस दोनों मुद्दों पर लक्सर के दलित—मुसिलम, पिछडे व अन्य सभी साथ हैं।

खबरों को वाट्सएप पर पाने के लिए हमे मैसेज करें : 8267937117

Share News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!