two sisters detained their minor brother in haridwar
Breaking News Haridwar Latest News Uttarakhand Viral News

सगी बहनों ने की छोटे भाई की हत्या, जिंदा नहर में फेंक दिया, कारण हैरान करने वाला

चंद्रशेखर जोशी।
हरिद्वार के ज्वालापुर थाना क्षेत्र से लापता हुए बच्चे पूरब के मामले में पुलिस ने पूरब की दो सगी बहनों को हिरासत में लिया है। दोनों पर पूरब की हत्या करने का आरोप है। पुलिस का दावा है कि दोनों ने पूरब को पहले नींद की दवाई खिलाई और इसके बाद उसे कंबल में लपेटकर नदी में फेंक दिया। पुलिस बच्चे के शव की तलाश कर रही है। वहीं दूसरी ओर इस घटना से पूरा हरिद्वार सकते में हैं।

—————
क्या है घटनाक्रम
दो दिन पहले ज्वालापुर की लोधामंडी से डेढ साल का पूरब संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गया था। परिजनों ने परिवार के ही कुछ सदस्यों पर चेारी का आरोप लगाया था। इलाके में चर्चा थी कि यहां तंत्र व़िद्या हो रही थी और बच्चे की बलि दी गई है। पुलिस सभी एंगल पर जांच कर रही थी। इसी दौरान पुलिस को सीसीटीवी फुटेज मिला जिसमें पूरब की दो सगी बहनें एक बैग गंगा की ओर ले जाती हुई दिखाई दी। पूछताछ करने पर दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।


———————
इस कारण ली पूरब की जान
पुलिस ने बताया कि पूरब के पिता साइकल पंचर की दुकान चलतो हैं और माता एक कंपनी में काम करती है। इसके पीछे उसकी 14 और 13 साल की बहनें बच्चे को घर में देखभाल करती थी। पुलिस ने बताया कि दूसरी बहन चचेरी है। लेकिन एक ही घर में रहते हैं। उसकी बहन को पूरब की देखभाल करनी पडती थी। इससे कारण वो परेशान रहने लगी थी। यही नहीं पिछले चार माह से वो स्कूल भी नहीं गई थी। इसलिए उसने अपनी चचेरी बहन के साथ मिलकर बच्चे को नहर में फेंक उसकी जान लेने की योजना बनाई।
—————
कनखल वाली घटना से आया आइडिया
हाल ही में हरिद्वार के कनखल थाना क्षेत्र में एक मां ने अपने एक साल के बेटे को परेशानी के कारण उसे गंगा में फेंक दिया था। यहां भी मां अपने बच्चे की देखभाल करने से परेशान होने लगी थी। एसएसपी सेंथिल अबूदई कृष्णराज एस ने बताया कि दोनों बहनों को कनखल वाली घटना से ही आइडिया आया।

One Reply to “सगी बहनों ने की छोटे भाई की हत्या, जिंदा नहर में फेंक दिया, कारण हैरान करने वाला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.