दिल्ली के नामी गैंग ने डाली हरिद्वार की सबसे बड़ी डकैती, 4 डकैत दबोचे

K.D.

Haridwar के मोरा तारा ज्वेलर्स में डाली गई करोड़ों की डकैती की वारदात को दिल्ली के विकास गैंग ने अंजाम दिया था। एसटीएफ, हरिद्वार पुलिस एवं एसओजी ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए वेस्ट यूपी के सहारनपुर, मेरठ से लेकर गुरुग्राम से चार डकैत दबोच लिए है। लेकिन गैंग सरगना विकास एवं उसका एक साथी अब भी पकड़ से बाहर बना हुआ है। गौर करने वाली बात यह है कि लूटे गए सोने-हीरे के जेवरात अभी तक नहीं मिल पाए है, हां कुछ लाख रुपए की रकम जरुर पुलिस टीम को हत्थे चढ़े डकैतों के कब्जे से मिली है।

शुक्रवार की देर रात रुड़की के एक सरकारी गेस्ट हाऊस से मिली लीड के बाद शहर की सबसे बड़ी डकैती की वारदात के खुलासे में जुटी उत्तराखंड पुलिस की टीमों ने देर रात ही वेस्ट यूपी एवं दिल्ली का रुख कर लिया था। पुलिस सूत्रों की माने तो देर रात से लेकर शनिवार सुबह तक संयुक्त आॅपरेशन में पुलिस टीमों ने चार डकैत धर दबोचे लेकिन उनके कब्जे से लूटा गया सोना नहीं बरामद हुआ है।

सामने आया कि दिल्ली का शातिर अपराधी विकास ही मास्टरमाइंड है और उसी की ही अगुवाई में डकैती की वारदात को अंजाम दिया गया था। पुलिस टीमों ने सहारनपुर से एक, मेरठ से एक एवं गुरुग्राम हरियाणा से दो डकैत दबोचे है, उनके कब्जे से कई लाख रुपए बरामद हुए है। यह डकैत फ्रेशर बताए जा रहे है जबकि गैंग लीडर विकास कई घटनाओं को अंजाम देने के आरोप में पूर्व में जेल जा चुका है। लूटे गए जेवरात विकास एवं उसके एक अन्य साथी के ही कब्जे में है, उन्हें धर दबोचना पुलिस के लिए टेढी खीर साबित हो सकता है। यदि जेवरात की रिकवरी नहीं होती है तो डकैती की घटना के खुलासे का मजा फीका रह जाएगा। हरिद्वार पुलिस के  सूत्रों की माने तो अगले चंद घंटों में पुलिस वारदात का खुलासा कर सकती है।

खबरों को व्हाट्सप पर पाने के लिए मैसेज करें : 8267937117

Share News
error: Content is protected !!