first time bhel dalit leader won elections in bhel haridwar unit

बदलाव: 58 साल में पहली बार दलित कर्मचारी ने जीता सामुदयिक केंद्र का चुनाव, कही बड़ी बात

रतनमणी डोभाल/विकास कुमार।
बीएचईएल हनिद्वार यूनिट के इतिहास में पहली बार किसी दलित कर्मचारी ने सामुदायिक केंद्र के चुनाव में जीत हासिल की है। इसे बीएचईएल में बडे बदलाव के तौर पर देखा जा रहा है। सामुदायिक केंद्र सेक्टर वन और सेक्टर चार के सचिव पद के चुनाव में दलित कर्मचारी अरुण कुमार ने जीत दर्ज की है। उन्होंने मनोज यादव को करीब 400 वोटों से हराया।

———————————————
ये रहेगी प्राथमिकता
सचिव अरुण कुमार ने कहा कि बीएचईएल कैंपस में भाईचारा कायम करना मेरा पहला उद्देश्य होगा। इसके अलावा सामुदायिक केंद्रों में अव्यवसथाओं को दूर करने का काम किया जाएगा। वहीं सामुदायिक केंद्र में बाहर के असमाजिक तत्वों से बचाने की प्राथमिकता रहेगी। उन्होंने कहा कि सामुदायिक केंद्र में भेल के बच्चों के लिए हायर एजुकेशन का केाई कोचिंग सेंटर खोलने का भी काम किया जाएगा। इसके अलावा हर तीन महीने में बैठक कर सुझाव मांगें जाएंगे जिन पर अमल किया जाएगा। साथ ही पारदर्शिता पर भी ध्यान दिया जाएगा और आम सभा बुलाकर आय व्यय का ब्यौरा दिया जाएगा। अरुण कुमार के सचिव बनने पर भेल के श्रमिक नेता सीपी सिंह ने बधाई देते हुए कहा कि पहली बार दलित कर्मचारी का चुनाव में जीत दर्ज करना बडे बदलाव का संकेत हैं। उन्होंने कहा कि भेल के सभी कर्मचारी एकता और भाईचारे का परिचय दे रहे हैं।

—————————
उपाध्यक्ष पद पर नरेश नेगी जीते
वहीं सचिव के अलावा उपाध्यक्ष पद पर नरेश नेगी ने जीत दर्ज की है। जबकि सदस्यों में जागेश पाल, गोपाल शर्मा, चिरंजीव कुमार और पवन शर्मा विजयी रहे हैं। भेल के सामुदायिक चुनाव में भेल के करीब 4000 कर्मचारी और अधिकारी भाग लेते हैं।

खबरों को वाट्सएप पर पाने के लिए हमे मैसेज करें : 8267937117

Share News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!