हरिद्वार : किसान ने की आत्महत्या, परिजनों ने शव रखकर जाम लगाया, इन पर लगाया आरोप

कुणाल दरगन।

मारपीट से आहत एक किसान ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। इसके बाद परिजनों ने मारपीट करने वाले आरोपियों के खिलाफ गिरफ्तारी की मांग को लेकर फेरूपुर चौकी के बाहर शव को रखकर जाम लगा दिया। और करीब 1 घंटा तक हंगामा किया। वहीं पुलिस ने दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीम बना दी हैं बताया जा रहा है कि दोनों आरोपी गांव के ही हैं और फिलहाल फरार चल रहे हैं। स्थानीय पुलिस ने बताया की  मांगेराम पुत्र आत्माराम निवासी नई कुंड थाना पथरी ने कल रात जहर खाकर अपनी जान दे दी थी। उसके पास से एक सुसाइड नोट भी मिला था। जिसमें उसने आत्महत्या के पीछे मारपीट करने वाले सुखविंदर और नीटू नाम के दो ग्रामीणों को जिम्मेदार ठहराया था। पुलिस ने सुसाइड नोट को कब्जे में ले लिया है वही जब आज मांगेराम का शव गांव आया तो परिजनों ने अन्य ग्रामीणों के साथ मिलकर शव को लक्सर फेरूपुर मार्ग पर फेरूपुर चौकी के सामने रखकर जाम लगा दिया। इससे करीब 1 घंटे तक मार्ग पर आवाजाही बंद रही जिसके कारण लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। उधर पुलिस ने परिजनों को आश्वासन दिलाया है कि सुखविंदर और नीतू नाम के दो कथित आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द ही दोनों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा यह भी बताया जा रहा है कि दोनों आरोपी खनन से जुड़े हैं और खनन के काम को लेकर ही मांगेराम के साथ मारपीट की गई थी। गौरतलब है कि पथरी क्षेत्र में अवैध खनन बहुत बड़ा मुद्दा है । अक्सर यहां अवैध खनन के कारण विवाद होते रहते हैं । खनन माफियाओं का घर होने के कारण ग्रामीण अक्सर इन से परेशान रहते हैं।

Share News
error: Content is protected !!