mumbai police made second arrest from uttarakhand in connection with bully bai app case

मुस्लिम महिलाओं की बोली लगाने वाली बुल्ली बाई एप केस में उत्तराखण्ड से दूसरी गिरफ्तारी, क्या है मामला

विकास कुमार/अतीक साबरी।
सोशल मीडिया ऐप के जरिए मुस्लिम महिलाओं की बोली लगाने वाली बुल्ली बाई ऐप केस में मुंबई पुलिस ने बंगलुरु से इंजीनियरिंग के छात्र विशाल कुमार झा और रुद्रपुर की एक युवती के बाद अब उत्तराखण्ड के पौडी गढवाल के कोटद्वार से एक युवक को गिरफ्तार किया गया है। युवक मंयक रावत दिल्ली के कॉलेज में बीएससी का छात्र बताया जा रहा है। वहीं युवक पर आरोप है कि उसने अपने ट्वीटर एकाउंट से बुल्ली बाई ऐप की सामग्री को पोस्ट किया था। फिलहाल मुंबई पुलिस उसे अपने साथ ले गई है। कोटद्वार पुलिस ने इसकी पुष्टि की है।

————————————
रुद्रपुर से युवती हो चुकी है गिरफ्तार
इससे पहले रुद्रपुर से मुंबई पुलिस ने श्वेता सिंह नाम की एक युवती को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि श्वेता सिंह की सोशल मीडिया के जरिए मुलाकार बंगलुरु निवासी युवक से हुई थी। श्वेता के पिता की कोविड से मौत हो गई थी जबकि उसकी मां का कैंसर से देहांत हो चुका है। मूलरूप से उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर का रहने वाला ये परिवार पिछले कई सालों से रुद्रपुर में रहा था। रिपोर्ट के मुताबिक युवती ने खुलासा किया है कि उसकी आईडी नेपाल के किसी यू जी नाम का युवक आपरेट करता था। जिसके बाद पुलिस ने अपनी जांच का दायरा बढा दिया।

———————————
क्या है बुल्ली बाई ऐप
सोशल मीडिया पर एक ऐप वजूद में लाया गया, जिसमें सोशल मीडिया पर सक्रिय रहने वाली सौ से ज्यादा महिलाओं के फोटो एडिट कर डाले गए और उसे नाम दिया गया बुल्ली बाई। इन महिलाओं की आनलाइन बोली लगाई जाती थी। यही नहीं इसका ट्विटर पर एक एकाउंट भी बनाया गया। शिकायत के बाद मुंबई पुलिस सक्रिय हुई और गहन जांच के बाद गिरफ्तारियों का दौर शुरु हुआ। पहली गिरफ्तारी कर्नाटक से विशाल कुमार झा के तौर पर हुई। जिसके बाद उत्तराखंड से दो गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। बडे नेटवर्क को देखते हुए और भी गिरफ्तारियां हो सकती हैं।

—————————————
खबरों को व्हट्सएप पर पाने के लिए हमें मैसेज करें: 8267937117

Share News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!