minor girl was rescued from the house in haridwar

उत्तर प्रदेश की किशोरी के साथ हरिद्वार में ​दरिंदगी, आरोपी महिला से पूछताछ जारी

विकास कुमार।
उत्तर प्रदेश के लखनउ की रहने वाली एक किशोरी के साथ घर में कैद कर मारपीट का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि किशोरी को काम काज के लिए लखनउ से हरिद्वार लाया गया था। पुलिस ने सूचना पर बालिका को आजाद कराया और उसकी मालकिन महिला को ​हिरासत में ले लिया। वहीं पुलिस पर कार्रवाई ना करने के लिए एक पूर्व मंत्री द्वारा दबाव बनाने की बात भी सामने आ रही है। फिलहाल पुलिस ने पीडिता का मेडिकल कराकर कार्रवाई की तैयारी शुरु कर दी है। बताया जा रहा है कि आरोपी महिला ज्वालापुर के एक बडे दवा कारोबारी के घर की बहू बताई जा रही है जो लखनउ की ही रहने वाली है और किशोरी को काम काज के लिए अपने साथ ले आई थी।
गुरुवार को क्षेत्र की हरिलोक कालोनी निवासी एक व्यक्ति ने ज्वालापुर पुलिस को सूचना दी कि उनके पड़ोसी के घर घरेलू कामकाज करने वाली एक किशोरी उनके घर भागकर आई है। बताया कि किशोरी के साथ बेरहमी से मारपीट करते हुए उसके बाल तक काट दिए गए है। किशोरी के शरीर के कई हिस्सों से खून बह रहा हैऔर जख्म बने हुए है। घटना की सूचना मिलने पर एसओ सददाम की अगुवाई में मौके पर रवाना हुई पुलिस टीम ने किशोरी को अभिरक्षा में ले लिया, जिसके बाद पुलिस टीम सीधे उस घर पहुंची जहां किशोरी कार्य कर रही थी।
जांच में ये भी बात सामने आई है कि किशोरी माता पिता नहीं है और उसके चाचा ने ही उसे यहां भेजा था। कोतवाली प्रभारी चंद्रचंद्राकर नैथानी ने बताया कि पूरे मामले की गहनता से जांच कर रहे है। किशोरी के शरीर पर चोटों के निशान है और उसकी सही उम्र के संबंध में भी जानकारी जुटा रहे है। उसके चाचा से संपर्कसाधा गया है। यदि किशोरी की उम्र कम पाई जाती है तब बालश्रम के तहत कार्रवाई होना तय है। बताया कि फिलहाल किशोरी कोतवाली की बालकल्याण अधिकारी एसआई पूजा पांडे की अभिरक्षा में है।

Share News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!