harish rawat and pritam group try to get ticket

34 सीटों के लिए स्क्रीनिंग कमेटी दोबारा करेगी माथापच्ची, कई सीटों पर हरीश—प्रीतम गुट में गतिरोध, हरिद्वार बना सरदर्द

रतनमणी डोभाल/विकास कुमार।
बुधवार को स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक में कांग्रेस के नीति निर्धारकों ने लगभग 36 सीटें पर नाम फाइनल कर दिए हैं। लेकिन अभी भी 34 सीटों कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है। हालांकि प्रदेश अध्यक्ष, सीएलपी और स्क्रीनिंग कमेटी की सूचियों के आधार पर एक पैनल वरीयता क्रम के आधार पर तय कर लिया गया हैं, जिस पर एक बार फिर स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक तीन जनवरी को दिल्ली में होनी है। इस बैठक के बाद फाइलन नामों की सूची केंद्रीय चुनाव समिति को भेज दी जाएगी, जिस पर सोनिया गांधी फैसला करेगी। हरिद्वार, उधमसिंह नगर जनपदों की सीटों पर सबसे ज्यादा दिमाग दौडाना पड रहा है।

————————————————
हरिद्वार की इन सीटों पर है गतिरोध
हरिद्वार जनपद की कलियर, मंगलौर और भगवानपुर विधानसभा के अलावा सभी आठ सीटें स्क्रीनिंग कमेटी के लिए सरदर्द बनी हुई हैं। यहां हर सीट पर हरीश रावत और प्रीतम सिंह के दावेदार हैं और दोनों ही गुटों से पैनल में भी नाम रखे गए हैं। हरिद्वार शहर में जहां हरीश रावत गुट से सतपाल ब्रह्मचारी हैं तो प्रीतम खेमे से आलोक शर्मा और अशोक शर्मा डटे हुए हैं। उधर, रानीपुर में हरीश खेमे से राजबीर सिंह, प्रीतम गुट से संजय पालीवाल की मजबूत दावेदारी है। यहां तेलूराम भी दो नांवों की सवारी कर पैनल में जगह बना चुके हैं। हरिद्वार ग्रामीण से अनुपमा रावत का नाम लगभग फाइनल माना जा रहा है। जबकि खानपुर, लक्सर, रुडकी, झबरेडा और ज्वालापुर सीटों पर एक अदद मजबूत उम्मीदवार की तलाश स्क्रीनिंग कमेटी के लिए सरदर्द बनी हुई हैं। इन सीटों पर भी दोनों ही गुटों के दावेदार दंभ भर रहे हैं। हालांकि इन सीटों पर हरीश रावत गुट के दावेदार ज्यादा है।

————————
36 सीटों पर नाम लगभग फाइनल
सूत्रों के मुताबिक स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक में करीब 36 सीटों में संभावित प्रत्याशियों के नाम लगभग फाइनल कर लिए गए हैं। इनमें मौजूदा विधायक, सीनियर नेताओं के अलावा वो उम्मीदवार भी हैं जो पिछले चुनाव में महज ढाई हजार से कम वोटों से हार गए थे। लेकिन, बाकी बची 34 सीटों के लिए स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक एक बार फिर होगी जो तीन जनवरी को तय है। इन सीटों में से अधिकर हरिद्वार जनपद और उधम सिंह नगर की है। जहां हरीश रावत गुट और प्रीतम सिंह गुट के कई दावेदार आमने—सामने हैं और दोनों ही नेता अपने प्रत्याशियों की पैरवी कर रहे हैं। उत्तराखण्ड की सह प्रभारी दीपिका पांडेय ने बताया कि स्क्रीनिंग कमेटी की एक बैठक के बाद दूसरी दौर की बैठक होनी हैं। इस बैठक में सभी सीटों पर एक बार फिर चर्चा की जाएगी। कितनी सीटें फाइनल हो चुकी हैं, इस बारे में कुछ नहीं बताया जा सकता है। पूरी प्रक्रिया को गोपनीय और पारदर्शी रखा गया है।

—————————————
खबरों को व्हट्सएप पर पाने के लिए हमें मैसेज करें: 8267937117

Share News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!