Kumbh mela Haridwar 2021

शाही स्नान: कहां से स्नान के लिए निकलेंगे अखाड़ों के संन्यासी, क्या होगा रुट, किस समय करेंगे नागा साधु स्नान

विकास कुमार।
कुंभ मेला हरिद्वार 2021 के पहले शाही स्नान के लिए हरकी पैडी पर श्रद्धालुओं और अखाडों के संतों के लिए स्नान का समय तय कर दिया गया है। मेला पुलिस के मुताबिक अखाड़े के संतों के लिए हरकी पैडी के मुख्य घाट को आरक्षित रखा जाएगा। लिहाजा, सुबह आठ बजे से शाम के करीब छह बजे तक कोई भी श्रद्धालु हरकी पैडी पर स्नान नहीं कर पाएगा। इस दौरान सिर्फ अखाडे के संत ही अपने तय समय सीमा में ही स्नान करेंगे। जबकि श्रद्धालु सुबह आठ बजे से पहले स्नान कर पाएंगे। हालांकि श्रद्धालु दूसरे घाटों पर आसानी से गंगा स्नान कर पाएंगे।

———————————————
कौन सा अखाड़ा पहले करेगा स्नान
वरिष्ठ अपराध संवाददाता सागर जोशी ने बताया कि सबसे पहले जूना अखाड़ा शाही स्नान करेगा। सुबह 11 बजे से लेकर 11:30 बजे तक स्नान करने का समय जूना अखाड़ा अग्नि आहवान और किन्नर को दिया गया है। अखाड़ों को 30 मिनट का समय ब्रह्कुंड हरकी पैड़ी में दिया गया है। 1 बजे से 1:30 के बीच पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी व आनंद के संत स्नान करेंगे। जबकि श्री महानिर्वाणी अखाड़ा और अटल अखाडा 4 बजे से 4:30 बजे के बीच स्नान करेगा।

—————————————————
कहां से निकलेंगे अखाडें के संत, क्या होगा रुट
आईजी संजय गुंज्याल ने बताया कि अखाडें के संत वैभवता के साथ वाल्मिकी चौक से होते हुए अपर रोड को होते हुए हरकी पैडी पर पहुंचेंगे, जबकि अखाडे स्नान के बाद इसी मार्ग से वापसी भी आएंगे। जब एक अखाडा पूरी तरह वापसी हो जाएगा तब दूसरे अखाडे को इस रुट से जाने की अनुमति दी जाएगी। तब तक दूसरे अखाडे की पेशवाई को वाल्मिकी चौक पर रोककर रखा जाएगा।

————————————
एक ही रुट का प्रयोग करना बडी चुनौती
वरिष्ठ पत्रकार आदेश त्यागी ने बताया कि एक ही रुट पर पेशवाई आने और वापसी करने की व्यवस्था किसी चुनौती से कम नहीं है। हालांकि, पुलिस ने अखाडें के जुलूस में आम भक्तों के शामिल होने पर पाबंदी लगाई है। लेकिन ये कितना संभव हो पाता है, ये बडा सवाल है। पुलिस के लिए एक ही रुट पर व्यवस्था संभालना बडी चुनौती होगी।

Share News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!