fake police constable arrested in uttarakhand

बेरोजगारी से परेशान युवक फर्जी सिपाही बनकर कर रहा था हफ्तावसूली, ऐसे आया कब्जे में

विकास कुमार/ऋषभ चौहान।
बेरोजगारी से परेशान युवक के उत्तराखण्ड पुलिस का सिपाही बनकर लघु व्यापारियों और वाहन चालकों से हफ्तावसूली कर रहा था। देहरादून पुलिस ने आरोपी युवक को फेक आईडी, पिस्टल और अन्य सामान के साथ गिरफ्तार किया है। युवक ने बताया कि उसका परिवार तंगहाली से गुजर रहा था और परिवार को पालने के लिए उसने ये काम किया है।


बसंत विहार थाना पुलिस ने बताया कि इंदिरा नगर क्षेत्र में एक पुलिसवाले के ठेली पटरी और वाहन चालकों से पैसे लेने की शिकायत मिली थी। शिकायत के बाद कथित पुलिसवाले की तलाश की तो उसे वर्दी में 14 मार्च को पकड लिया। आरोपी युवक ने खुद को उत्तराखंड पुलिस का कॉन्स्टेबल बताते हुए पुलिस का आईडी कार्ड प्रस्तुत किया। पोस्टिंग इत्यादि के संबंध में पूछताछ करने पर कोई भी संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया। शक होने पर सख्ती से पूछताछ की गई तो उक्त व्यक्ति द्वारा माफी मांगते हुए बताया गया कि साहब मैं कोई पुलिस वाला नहीं हूं यह जो कार्ड मेरे द्वारा आपको दिखाया गया है यह फर्जी है मैं एक गरीब व्यक्ति हूं मेरे पास घर घर चलाने का कोई भी साधन नहीं है इसलिए मैं पुलिस की वर्दी पहन कर पुलिस का रोब दिखाकर चलते फिरते ठेली किराए के वाहनों से चेकिंग आदि के नाम पर पैसे वसूल कर अपना खर्चा चलाता हूं। युवक ने अपना नाम मुकेश कुकरेती पुत्र विशाल मणि कुकरेती निवासी 194 शास्त्री नगर सीमद्वार थाना वसंत विहार जनपद देहरादून उम्र 34 वर्ष मूल पता राम नगर शिव कॉलोनी थाना रायपुर जनपद देहरादून बताया। उक्त व्यक्ति के कब्जे से उत्तराखंड पुलिस का एक पहचान पत्र, एक विजिटिंग कार्ड, एक वॉकी टॉकी प्राइवेट, एक पिस्टल हॉलस्टर, कुल 3400 रुपए एवं उत्तराखंड पुलिस की सिपाही की वर्दी जैकेट पेंट बेल्ट जिसमें उत्तराखंड पुलिस के बैच लगे हुए बरामद हुए। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

खबरों को वाट्सएप पर पाने के लिए हमे मैसेज करें : 8267937117

Share News

2 thoughts on “बेरोजगारी से परेशान युवक फर्जी सिपाही बनकर कर रहा था हफ्तावसूली, ऐसे आया कब्जे में

  1. Wht Rubbisbish is this..?? Man in Dipression by unemplyment. And you are Publishing his name along with his actual adress. Shame on your education and journalism.Kisi Ko marne se bacha na sako toh kam se kam marne ke tareeke nahi batane chahiye. Thanks. Apka Uttrakhandi Fufa.

    1. Respected Sir,
      When a person arrested police itself revealed accused name and address and issue press release with full detail. please calm down and take deep breathe. It is our job to publish news. Thankyou, for your comment.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!