Uttarakhand BJP

रानीपुर का दंगल: पुल के चक्कर में भाजपा विधायक और चेयरमैन खेमे में महासंग्राम

विकास कुमार।
रानीपुर विधानसभा में भाजपा विधायक आदेश चौहान और शिवालिक नगर पालिका के चेयरमैन भाजपा नेता राजीव शर्मा के खेमों में फिर से हायतौबा शुरु हो गई है। इस बार विवाद का कारण रानीपुर रौ पर नया बना पुल है। इस पुल को पास कराने का श्रेय पहले राजीव शर्मा ने खुद लिया था और इसका लोकार्पण भी नारियल फोड कर दिया था। लेकिन अब भाजपा विधायक आदेश चौहान का नाम पुल के शिलापट्ट पर आने के बाद भाजपा विधायक समर्थकों ने फोटो शेयर की और प्रत्यक्ष व अप्रतक्ष तौर पर चेयरमैन राजीव शर्मा पर निशाना साधा।
जिसके बाद दोनों के समर्थकों में एक बार फिर जुबानी जंग तेज हो गई है। गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव से ही दोनों नेताओं में विवाद चला आ रहा है और ये विवाद तब खुलकर सामने आ गया जब नगर पालिका चुनाव में भाजपा विधायक आदेश चौहान के करीबी ने राजीव शर्मा के खिलाफ निर्दलीय चुनाव लडा। इस चुनाव में आदेश चौहान के समर्थकों ने राजीव शर्मा का विरोध किया लेकिन राजीव शर्मा को चुनाव जीतने से नहीं रोक पाए। चुनाव के बाद आदेश चौहान के करीबी भाजपा नेताओं पर कार्रवाई भी हुई लेकिन बाद में सब सामान्य हो गया। इसके बाद से ही दोनों खेमों की ओर से बयानबाजी चलती रहती। अब ताजा मामला पुल का श्रेय लेने को लेकर बन गया है। अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं और खेमेबाजी जारी रहती है तो चुनाव में नुकसान उठाना पड सकता है।

———————–

सीएम बदलने के बाद भाजपा विधायक का बढ़ा कद
वहीं त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार में चेयरमैन राजीव शर्मा की तूती बोल रही थी और राजीव शर्मा विधायक आदेश चौहान पर भारी पड रहे थे। अफसर भी राजीव शर्मा के कार्यक्रमों में पहुंच रहे थे। लेकिन अब सीएम बदलने के बाद राजीव शर्मा पीछे हो गए हैं जबकि भाजपा विधायक आदेश चौहान का आत्मविश्वास चरम पर हैं। नई परिस्थितियों में विधायक का पलडा भारी नजर आ रहा है।

adv.
Share News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!