former bjp mla relative arrested in scholarship scam
Breaking News crime Haridwar Latest News Uttarakhand Viral News

उत्तराखण्ड: पूर्व विधायक के रिश्तेदार ने किया करोड़ों का छात्रवृत्ति घोटाला, इस कॉलेज का है चेयरमेन

चंद्रशेखर जोशी।
करोडो रुपए के छात्रवृत्ति घोटाले में एसआईटी ने गुरुवार को पूर्व विधायक के रिश्तेदार को गिरफ्तार किया है। करोडो रुपए के छात्रवृत्ति घोटाले में एसआईटी ने गुरुवार को पूर्व विधायक के रिश्तेदार को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि फर्जी ए​डमिशन दिखाकर कॉलेज प्रबंधन ने करोडों का घोटाला किया है। पुलिस के मुताबिक समाज कल्याण विभाग ने 25 करोडा अठावन लाख रुपए की छात्रवृत्ति प्रदान की। जिसमें प्राथमिक तौर पर पच्चीस प्रतिशत धनराशि का गबन किया जाना प्रकाश में आया है। वहीं पुलिस सही धनराशि के संबंध में जांच कर रही है।  इससे पहले कांग्रेस विधायक के भाई को भी इसी घोटाले में पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। former bjp mla relative arrested in scholarship scam
अनुसूचित जाति और जनजाति की छात्रवृत्ति घोटाले में एसआईटी मामले की जांच कर रही है। अभी तक सात लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। नए मामले में रूडकी के नामी फॉनिक्स ग्रुप आॅफ इंस्टिट्यूशन रूडकी के चेयरमैन चेरब जैन को गिरफ्तार किया गया है। चेरब जैन रूडकी से दो बार के विधायक सुरेश चंद्र जैन के भतीजे हैं। पिछला चुनाव उन्होंने कांग्रेस के टिकट से लडा था लेकिन वो हार गए थे।
एसआईटी प्रभारी मंजूनाथ टीसी ने बताया कि 2012—13 से 2016—17 के बीच  फर्जी ए​डमिशन दिखाकर कॉलेज प्रबंधन ने घोटाला किया है। पुलिस के मुताबिक समाज कल्याण विभाग ने 25 करोडा अठावन लाख रुपए की छात्रवृत्ति प्रदान की। जिसमें प्राथमिक तौर पर पच्चीस प्रतिशत धनराशि का गबन किया जाना प्रकाश में आया है। वहीं पुलिस सही धनराशि के संबंध में जांच कर रही है। जब इस बारे में समाज कल्याण विभाग और उत्तराखण्ड तकनीकी विश्वविद्यालय से जानकारी जुटाई गई तो अधिकतर एडमिशन फर्जी पाए गए।
इस संबंध में चेयरमेन चैरब जैन को पूछताछ के लिए बुलाया गया था। लेकिन वो कोई दस्तावेज नहीं दिखा पाए। इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। इससे पहले अमृत कॉलेज, आईपीएस कॉलेज, टेकवर्ड कॉलेज के प्रबंधकों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.