five kinnar arrested for extorting money
Breaking News crime Haridwar Latest News Rishikesh Uttarakhand

उत्तराखण्ड: किन्नरों ने सरेआम की ऐसी हरकत कि होना पड़ा गिरफ्तार, पढिए

चंद्रशेखर जोशी।

उत्तराखण्ड के ​ऋषिकेश में पांच किन्नरों को पुलिस ने हवालात में बंद कर दिया। संज सवर कर पांचों किन्नरों ने सरेआम ऐसा काम कर दिया कि पुलिस ने पांचों को दबोच लिया और जमानत मिलने के बाद ही रिहा किया। शराब के ठेके पर शगुन में शराब व रुपया मांगना 5 किन्नरों को आज महंगा पड़ गया। खारा स्रोत अंग्रेजी शराब के ठेकेदार अरविंद राणावत द्वारा दोपहर प्रभारी निरीक्षक को शिकायत की गई की उनकी शराब की दुकान पर 5 किन्नर जबरन शराब व रुपैया की मांग कर रहे हैं और जब उन्होंने ऐसा करने से मना किया तो वे जबरन शराब की दुकान के अंदर बैठ गए और हंगामा खड़ा कर दिया। इस सूचना पर प्रभारी निरीक्षक आरके सकलानी मय फोर्स मौके पर पहुंचे और शगुन के नाम पर हंगामा खड़ा कर रहे पांचों किन्नरों को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि जबरन वसूली न करने के आश्वासन के बाद पांचो किन्नरों को बाद में 81 पुलिस एक्ट के तहत जुर्माना काट कर छोड़ दिया गया।
गिरफ्तार किन्नरों में *पूजा चेला किरण शर्मा रामिया, इशाना, माही है निवासी कोयल घाटी ऋषिकेश* है। इस संबंध में पूर्व में भी नगर पालिका अध्यक्ष मुनि की रेती श्री रोशन रतूड़ी और कई अन्य लोगों द्वारा किन्नरों के आतंक के विषय में प्रभारी निरीक्षक को अवगत कराया गया था। आमतौर पर किन्नर जन्मदिवस, चूड़ाकर्म ,विवाह समारोह, गृह प्रवेश आदि तमाम शुभ अवसरों पर पहुंचकर सीधा ₹51000 की मांग कर डालते हैं सौदेबाजी करके 10 से 20000 ले लेते हैं शगुन के नाम पर डरा धमका कर रुपया लेना अपराध है लोग स्वेच्छा से ही शगुन की राशि इस प्रकार केलोगों को दे ।उल्लेखनीय है कि किंनर समाज के लोग विधायक और मेयर तक रहे है पर तु कुछ लोगो द्वारा इसे परंपरागत रूप से वसूली का साधन बना दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.