Breaking News Latest News Uttarakhand Viral News

एबीवीपी छात्रों पर लाठियां भांजी, भाजपा नेताओं ने की कार्रवाई की मांग, देखें वीडियो

चंद्रशेखर जोशी।
एसएमजेएन कॉलेज में छात्र संघ चुनाव को लेकर आंदेालन कर रहे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्रों पर लाठियां फटकारने के मामले ने तूल पकड लिया है। एक तरह जहां एबीवीपी की ओर से पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए दो दिनों का अल्टीमेटम दिया गया है। वहीं दूसरी ओर भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने भी इस मामले की जांच कर दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। साथ ही इस मामले में जल्द ही सीएम से मुलाकात करने की बात भी कही है।

——————
क्यों हुआ विवाद
गौरतलब है कि एसएमजेएन डिग्री कॉलेज में छात्र संघ चुनाव को लेकर अखिल भारतीय विद्या​र्थी परिषद की मांग थी कि चुनाव को ओपन तरीके से कराए जाए। अभी तक यहां सीआर सिस्टम से प्रतिनिधि चुने जाते थे। लेकिन, एबीवीपी की मांग है कि यहां अन्य कॉलेजों की तरह ही डायरेक्ट इलेक्शन कराए जाएं। इस बात केा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद आंदोलन करते हुए कॉलेज में आए और कॉलेज प्राचार्य के गेट तक पहुंच गए। साथ ही पुतला दहन भी किया। वहीं एनएसयूआई के छात्रों से भी उनकी नोंकझोंक हुई। हालात केा काबू में करने आई पुलिस ने छात्रों को समझाने का प्रयास किया। लेकिन हालात बेकाबू होता देख पुलिस ने बल का प्रयोग किया। इस दौरान एबीवीपी के संगठन मंत्री राहुल सारस्वत और विभाग संयोजक मोहित चौहान को हिरासत में ले लिया गया। साथ ही अन्य कार्यकर्ताओं पर लाठियां फटकार कर तितर बितर किया गया।

see video here—

—————
क्या कहते हैं भाजपा नेता
भाजपा के जिला महामंत्री विकास तिवारी ने कहा कि जिस तरह एबीवीपी के कार्यकर्ताओं पर लाठियां फटकारी गई। इसे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जल्द ही एक प्रतिनिधिमंडल सीएम से मुलाकात कर दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करेगा। वहीं एबीवीपी के विभाग संयोजक मोहित चौहान ने कहा कि पुलिस ने दो दिन का समय मांगा है। अगर कार्रवाई ना हुई तो एबीवीपी आंदोलन करेगा। वहीं भाजपा नेता उज्जवल पंडित ने कहा कि पूरा प्रकरण शर्मनाक है। भाजपा युवा मोर्चा भी इसे जायज नहीं ठहराता। इस मामले में ठोस कार्रवाई की जानी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.