Uttarakhand

बागी विधायकों के समर्थन में स्वाभिमान यात्रा निकाली

chopraबागी विधायकों के समर्थन में स्वाभिमान यात्रा निकाली
हरिद्वार। उत्तराखण्ड विकास मंच के प्रान्तीय अध्यक्ष संजय चोपड़ा की अगुवाई में उत्तराखण्ड के पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत, पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा सहित कांग्रेस के बागी विधायकों के समर्थन में ललतारौ घाट से हरकी पौड़ी तक स्वाभिमान यात्रा प्रारंभ की। स्वाभिमान यात्रा का मुख्य उद्देश्य उत्तराखण्ड के विधायकों द्वारा पूर्व की हरीश रावत भ्रष्टाचारी सरकार को गिराकर उत्तराखण्ड के आवाम को एक क्रूर राज्य पाठ से मुक्ति दिलाई है और लगातार गंगा में खनन शराब माफियाओं को बढ़ावा भूमाफियाओं के चुंगल से उत्तराखण्ड के स्वाभिमान को बचाने के लिये जो उत्तराखण्ड के विधायकों द्वारा अपने पदों से त्याग पत्र देकर जो कुर्बानी दी गई है वह प्रशंसनीय हैं। उत्तराखण्ड विकास मंच आगामी कार्यक्रम के तहत 23 अप्रैल से पूरे प्रदेश भर में स्वाभिमान यात्रा के माध्यम से उत्तराखण्ड के विधायकों के विधानसभा क्षेत्र के साथ-साथ हरीश रावत के विधानसभा क्षेत्र में उत्तराखण्ड के विधायकों के स्वाभिमान को यथावत रथ यात्रा के माध्यम से जारी रखी येगी। इस मौके पर मंच के प्रान्तीय अध्यक्ष संजय चोपड़ा ने कहा कि उत्तराखण्ड के क्रांतिकारी नेता पूर्व मंत्री डाॅ0 हरक सिंह रावत ने जनता के हितों को सर्वप्रिय रखते हुए अपने पदों से त्याग पत्र देकर हरीश रावत सरकार का अन्त किया है। डाॅ0 हरक सिंह रावत व विजय बहुगुणा सहित विधायकों ने उत्तराखण्ड के जनमानस व आवाम के लिये स्वाभिमान को बरकरार रखा है। हरीश रावत व उनके पिछलगू किशोर उपाध्याय आम जनता को अब ज्यादा गुमराह नहीं कर सकते क्योंकि राज्य से एक भ्रष्टाचारी सरकार से मुक्ति मिली हैं और जनता को छलावा देने वाली हरीश रावत सरकार का सफाया हो चुका हैं। उत्तराखण्ड विकास मंच के जिलाध्यक्ष सतीश शर्मा ने कहा कि यह स्वाभिमान यात्रा 9 विधायकों के समर्थन के साथ-साथ पूर्व मंे रही रावत सरकार के दौरान हुये व्याप्त भ्रष्टाचार की पोल खोलने का कार्य करेगी उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत व उनके प्रिय नेताओं की पोल स्वाभिमान यात्रा से खोली जायेगी जबकि रावत सरकार बार-बार डाॅ0 हरक सिंह रावत व पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा सहित 9 विधायकों की कार्यशैली पर प्रश्नचिन्ह लगा रहे हैं जबकि पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत स्वयं स्टिंग सीडी में उत्तराखण्ड को बेचने व कलंकित करने का कार्य कर चुके हैं जो कि पूरी दुनिया में प्रत्यक्ष रूप से देखा गया। उन्होंने कहा कि स्टिंग सीडी की सीबीआई जांच होनी चाहिये, स्वयं
एक प्रतिनिधिमण्डल उत्तराखण्ड विकास मंच के बैनर तले दिल्ली में महामहिम राष्ट्रपति से स्टिंग सीडी जांच की मांग को दोहरायेगा। पद यात्रा में शामिल होने वाले लोगो में शहर अध्यक्ष राजेन्द्र पाल, गुरजीत सिंह, गोपाल शर्मा, विवेक त्यागी, प्रवेज विक्की, ऋषभ सैनी, अरूण शंकर, संजय गौड़, रविन्द्र कीर्तिपाल, मोहनलाल, भूपेन्द्र राजपूत, ​िक्की गुप्ता, कमल, क्षपाल, श्यामजीत, छोटेलाल, धमेन्द्रपाल, जयप्रकाश, ओमप्रकाश कालियान, धर्मेन्द्र पाल आदि लोग शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.