Dehradun Latest News Viral News

कोर्ट में सरकारी वकील पांच लाख घूस लेते पकड़ा, भीड़ ने छुड़ाया, केस दर्ज

देहरादून।
धोखाधड़ी के केस की कमजोर पैरवी करने के एवज में सात लाख रुपए रिश्वत मांगने वाले सरकारी वकील को विजिलेंस की टीम ने रंगे हाथों पकड़ लिया। कचहरी परिसर में ही किए गए इस आॅपरेशन के बाद जुटी वकीलों की भीड़ ने आरोपी सरकारी वकील को जबरन छुड़ा लिया। इसके बाद पुलिस ने सरकारी वकील और उसे छुडाने वाली भीड़ के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। इस मामले को लेकर दिन भर देहरादून में हो हल्ला चलता रहा।
एसएसपी आफिस में विजिलेंस के अपर पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार पत्रकारों को बताया कि प्रेमनगर के स्मिथ नगर निवासी वेद प्रकाश गुप्ता को कुछ दिन पहले धोखाधड़ी के एक मामले में निचली अदालत से तीन साल की सजा हुई है। वेद गुप्ता ने सजा माफी के लिए ऊपरी अदालत में अपील की हुई है। इस मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से एडीजीसी अशोक उभान पैरवी कर रहे हैं। वेद प्रकाश गुप्ता ने एक दिसंबर को विजिलेंस को बताया कि एडीजीसी ने उसके मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से कमजोर पैरवी की एवज में सात लाख रुपये घूस मांगी।
एडीजी के मुताबिक योजना के तहत मंगलवार सुबह करीब साढ़े दस बजे वेद गुप्ता को साथ लेकर विजिलेंस की टीम कचहरी स्थित एडीजीसी अशोक उभान के चैंबर में पहुंची। वेद प्रकाश ने एडीजीसी को रिश्वत की पांच लाख की रकम सौंपी। सरकारी अधिवक्ता इस रकम को गिन ही रहे थे कि तभी विजिलेंस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। इस बीच, सरकारी अधिवक्ता के शोर मचाने पर चैंबर के बाहर तमाम लोगों की भीड़ जमा हो गई, इनमें कुछ अधिवक्ता भी थे। चैंबर भीतर से बंद था, भीड़ चैंबर का दरवाजा तोड़कर भीतर घुस गई और एडीजीसी अशोक उभान को छुड़ा ले गई। विजिलेंस टीम रिश्वत की रकम जब्त कर अपने कार्यालय लौट गई। देर शाम तक आरोपी विजिलेंस के हाथ नहीं लग पाया था।
वहीं विजिलेंस आरोपी सरकारी अधिवक्ता के खिलाफ रिश्वत लेने का मुकदमा दर्ज कर लिया है। साथ ही आरोपी को छुड़ा ले जाने के मामले में भी विजिलेंस ने कोतवाली में केस दर्ज कराया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.