Wednesday , May 23 2018 12:19:22 PM
Breaking News
Home / English News / ‘मार्च में घर पहुंचेगी गैस पाइप लाइन, वाहनों में भी लगेगी सीएनजी’

‘मार्च में घर पहुंचेगी गैस पाइप लाइन, वाहनों में भी लगेगी सीएनजी’

Published on December 13, 2016 11:28:36 AM

एसएन चौधरी।
अगले साल मार्च तक गेस पाइल लाइन हरिद्वार, रूडकी और लक्सर के लोगों के घरों तक पहुंच जाएगी। यही नहीं दस हजार वाहनों में भी सीएनजी लगाई जाएगी। ताकि पर्यावरण प्रदूषण कम किया जा सके। इतना ही नहीं पूरे राज्य में 74 गैस एजेंसियां भी खोली जाएंगी। इसके लिए अगले तीन दिनों में काम शुरू हो जाएगा। अभी तक राज्य में महज 250 गैस एजेंसियां हैं।
केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने प्रेम नगर आश्रम में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि हरिद्वार को सिटी गैस विरतण परियोजनों से जोडा जा रहा है। इस पर 450 करोड रुपए खर्च किए जाएंगे। पूरे जनपद में करीब 300 किमी लंबी पाइप लाइन बिछाई जाएगी। ताकि घरों में सीधे पाइन से गैस पहुंचाई जा सके। उन्होंने कहा कि हरिद्वार में कचरे से ईंधन तैयार करने के लिए भी प्रयास जारी है। इस पर एक हजार करोड का खर्चा आने की संभावना है। इसका एक प्लांट हरिद्वार में स्थापित किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि होटलों और उद्योगों में भी पीएनजी सेवाएं शुरू की जाएगी। ​ताकि उद्योगों का विकास हो सके। वहीं दूसरी ओर गैस आधारित शमशानों के निर्माण पर भी विचार किया जा रहा है। इसके लिए प्रयास जारी है। उन्होंने कहा कि राज्य के दूसरे इलाकों में भी जल्द ही पाइप से गैस घर—घर तक पहुंचाने के लिए काम किया जाएगा।
प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि तराई क्षेत्र में भी ये व्यवस्था की जानी चाहिए। वहीं दूसरी ओर मदन कौशिक ने सिटी गैस वितरण परियोजना के लिए केंद्र सरकार का धन्यवाद दिया। इस दौरान विधायक सतपाल महाराज, सांसद रमेश पोखरियाल निशंक स्वामी यतीश्वरानंद, आदेश चौहान, संजय गुप्ता, चंद्रशेखर, भट्टेवाले, सुरेश राठौर, संजय चोपडा, नरेश शर्मा, मृदुल कौशिक आदि उपस्थित रहे।

Published on December 13, 2016 11:28:36 AM

About news129.com

Check Also

government jobs in uttarakhand forest guard vacancy

फॉरेस्ट गार्ड के 1218 पदों पर भर्ती, पढिए गार्ड की ड्यूटी और अधिकार, ये मिलेंगे फायदे

चंद्रशेखर जोशी। उत्तराखण्ड सरकार ने वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड के 1218 पदों पर सीधी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!