Breaking News Haridwar Latest News Uttarakhand Viral News

झमाझम बारिश में फिर मनचला हुआ ‘विकास’, घरों—दुकानों में घुसा पानी, देखें तस्वीरें

रतनमणि डोभाल।
उत्तरी हरिद्वार में चंद दिनों में विश्व प्रसिद्ध हरकी पैडी पर भारी बारिश के कारण दीवार गिर गई थी। वहीं अब एक ओर बारिश ने उत्तरी हरिद्वार के लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। शुक्रवार की देर रात हुई बारिश के बाद यहां कई घरों में पानी घुस गया तो कई दुकनें पानी से लबालब हो गई। उधर, कुछ इलाकों में दीवार गिरने और पहले से ही क्षतिग्रस्त सडके और ज्यादा बुरी हालात में हो गई है। वहीं मंसा देवी हिलबाई पास पर भी मलबा आने से लोग दहशत में जीने को मजबूर हैं। उधर, कांग्रेस ने एक बार फिर शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक पर हमला बोलते हुए अनियोजित विकास कार्योंं को इसके लिए जिम्मेदार बताया है।

दुकान से पानी निकालता बच्चा।

मूसलाधार बारिश ने भारी तबाही मचाई है जगह-जगह सड़कें व गलियां धंस गई है। दुकानों व घरों में पानी भर गया है शिवालिक पर्वत माला से आई सिल्ट से विष्णु घाट, सब्जी मंडी का बाजार में भर गया है। हर की पैड़ी सुभाष घाट पर भी सिल्ट फैल गई है। ललता रौं नदी के उफान से भी हिमालय डिपो के पीछे के घरों के अंदर कई फीट पानी भरा। वरिष्ठ पत्रकार गोपाल रावत के घर में भी पानी घुसा है। औद्योगिक क्षेत्र से आ रहा नाला ऋषिकुल की पुलिया पर उफन कर सड़क पर आ गया तथा पटियाला बैंक से हिमगिरि होटल तक कीचड़ फैल गया है।

बारिश के कारण उत्तरी हरिद्वार के कई घरों में पानी घुस गया।

वहीं दूसरी ओर शहर कोतवाली से आगे पुलिस क्वार्टर के पीछे की दीवार गिर गई है गली में बोल्डर भर गया है। मनसा देवी मार्ग पर अंडर ग्राउंड नाला बैठ गया है। अपन रोड पर बड़े बड़े गहरे गड्ढे हो गए हैं। कांगड़ा मोड़ के आसपास भूस्खलन हुआ है। हिल बाईपास से बहकर आई सिल्ट से भीमगोडा भर गया है।
भूपतवाला में मुखिया गली में भी सिल्ट आई। सप्त सरोवर रोड पर सिल्ट जमा हो गई है। लोगों का इस मार्ग पर आना-जाना प्रभावित है। रानी गली की पुलिया पर भारी जलभराव रहा। लोगों के घरों में पानी भर गया है। केले वाली पुलिया के नाले के ओवरफ्लो होने से नेपाली गली में शारदा मठ की पीछे की दीवार भी ढह गई है। फ्रंट की दीवार 21/22 जुलाई की बारिश से टूट गई थी। रानी गली में ऊर्जा निगम ने अपनी भूमिगत केबिल के लिए चार फुट के नाले को बन्द कर 4 इंच का पाइप डाला गया है।भारत माता पुरम में पार्क की दीवार टूट गई है। घरों के अंदर 4-4 फुट तक पानी भरा है। पंत के मकान के अंदर छह फीट तक पानी भरा तीन परिवारों को भारी नुक़सान हुआ है।

बारिश के कारण बाजारों में भारी सिल्ट आ गया।

—————
क्या कहते हैं अफसर: आपदा प्रबंधन अधिकारी मीरा कैंतुरा ने बताया कि उत्तरी हरिद्वार में किसी जान माल की नुकसान की सूचना नहीं है। हालांकि कई जगह सिल्ट आने और पानी जमा होने की बात सामने आई है। एक दो जगह दीवार गिरने की भी बात कहीं जा रही है। लेकिन इसको कंनर्फ कराया जा रहा है। नगर निगम और अन्य दूसरे विभागों को नुकसान का आंकलन करने के लिए कहा गया है। साथ ही मलबा हटाने के लिए जेसीबी काम पर लगा दी गई है। वहीं भारी बारिश से कहां कहां जलभराव हुआ है उसकी भी सूची तैयार की जा रही है।

————

क्षतिग्रस्त सडक को देखते हुए कांग्रेस नेता सतपाल ब्रह्मचारी।

कांग्रेस ने लगाया आरोप :कांग्रेस नेता और पूर्व पालिका अध्यक्ष सतपाल ब्रह्मचारी ने सीधे तौर पर शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक को इसके लिए जिम्मेदार बताया है। उन्होंने कहा कि अनियोजित विकास के कारण शहर ​में विकास की जगह विनाश हो रहा है। सडकें तालाब बन गई हैं और जल निकासी ना होने के कारण लोगों के घरों और दुकानों में पानी व मलबा आ रहा है। उन्होंने अफसरों की संवेदनहीनता को भी आडे हाथों लिया और समय रहते समस्या का समाधान ना करने का आरोप जडा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.