Breaking News Haridwar Latest News Uttarakhand Viral News

हरकी पौड़ी कूच कर रहे सिख प्रदर्शनकारी हिरासत में लिए गए

कुणाल दरगन।
विभिन्न मांगों को लेकर हर की पैड़ी कूच कर रहे सिखों के जत्थे को हरिद्वार कोतवाली पुलिस ने रोक लिया । पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 16 सिखों का शांतिभंग करने के आरोप में चालान कर दिया है । इन सभी के खिलाफ आपदा प्रबंधन एक्ट के तहत भी मुकदमा दर्ज कर लिया गया है ।
गुरुद्वारा ज्ञान गोदड़ी का मामला लंबे समय से सुर्खियों में है ही पिछले दिनों ज्वालापुर में एक महिला पर गुरु ग्रंथ के अपमान का आरोप लगा था ।इस संबंध में ज्वालापुर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया था।
पथरी क्षेत्र में सिख युवक की मौत को लेकर भी सिखों में रोष बना हुआ है। इन सभी प्रकरण में कार्रवाई की मांग को लेकर सिख समाज ने हर की पौड़ी पर धरने की चेतावनी दी थी ।रविवार को सिख एकत्र होकर हर की पैडी पहुंच रहे थे ,जिन्हें सीसीआर चौक पर पुलिस ने बैरिकेडिंग कर रोक लिया। हरकी पैड़ी पर धरना देने की जिद कर रहे सिख जब नही माने तो उनकी पुलिस से नोक झोंक भी हुई। आखिरकार पुलिस सभी को हिरासत मे लेकर पुलिस लाइन ले आयी। कोतवाली प्रभारी अमरजीत सिंह ने बताया कि शिरोमणि अकाली दल के प्रदेश अध्यक्ष जगजीत सिंह जग्गा पुत्र हरविंदर सिंह, नमदीप सिंह पुत्र सतपाल निवासीगण ऋषिकेश, बलदेव सिंह पुत्र लखनसिंह, जसपाल सिंह पुत्र मान सिंह, अमरीक सिंह पुत्र प्रीतम सिंह निवासीगण ऐथल पथरी, जल सिंह पुत्र सहब सिहं दीनापुर पथरी, निशान सिंह पुत्र सतविंदर सिंह, पथरी, परमजीत सिंह पुत्र सुखचैन सिंह, सतविंदर सिंह पुत्र मान सिंह, गुरुप्रीत सिंह पुत्र राज सिंह निवासीगण पथरी, प्रेमपाल पुत्र अवतार सिंह निवासी ऐथल, बंदू सिंह पुत्र मान सिंह ऐथल पथरी, बलदेव पुत्र मलूक सिंह और सुब्बा सिंह ढिल्लो पुत्र हरदीप सिंह निवासीगण दीनापुर पथरी, नितीन पुत्र शिवराम निवासी बुग्गावाला को शांति भंग करने के आरोप मे गिरफ्तार कर लिया, जिन्हें जमानत पर छोड़ दिया गया। बताया कि सभी के खिलाफ आपदा प्रबंधन एक्ट के तहत भी केस दर्ज किया है।
शिरोमणि अकाली दल (अ) के प्रदेश अध्यक्ष जगजीत सिंह जग्गा ने कहा कि सिख समाज को न्याय नहीं मिल पा रहा है। इस वजह से सिख समाज में रोष उत्पन्न हो रहा है। जिलाध्यक्ष सूबा सिंह ढिल्लों ने कहा कि सरकार और पुलिस प्रशासन सिख समाज को इंसाफ नहीं दिला पा रहा है। ज्वालापुर में श्री गुरु ग्रंथ साहिब का अपमान करने वाली महिला पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई । पुलिस राजनीतिक दबाव के चलते आरोपियों की गिरफ्तारी करने से बच रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.