Breaking News Latest News Viral News

सिक्ख समाज ने बढ़ाई भाजपा सरकार की मुश्किलें, प्रशासन की चिंता में जानिये क्यों

चंद्रशेखर जोशी।
ज्ञान गोदडी गुरुद्वारा निर्माण को लेकर पिछले कई सालों से चला आ रहा विवाद और ज्यादा बढने की उम्मीद है। सिक्ख समाज के लोगों ने रविवार को सेक्टर वन स्थित गुरुद्वारे में बैठक में सरकार को अपनी मंशा दो टूक जाहिर कर दी है।
सिक्ख समाज के पदाधिकारियों ने कहा कि हरकी पैडी के पास ऐतिहासिक जगह ही हमें गुरुद्वारा चाहिए। इसके इतर हम कोई भी समझौता नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि हरकी पैडी जहां गुरु नानक देव महाराज जी आए थे, उसकी जगह हमें गुरुद्वारा चाहिए।
सिक्ख समाज की इस मांग पर शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी अमृतसर और दिल्ली की कमेटी ने भी अपनी मुहर लगा दी है।
गौरतलब है कि सिक्ख समाज के लोग लंबे समय से हरकी पैडी के पास जहां अब स्काउट एंण्ड गाइड का दफ्तर है, वहां गुरुद्वारा बनाने की मांग कर रहे हैं। सिक्खों की दावा है कि यहां पहले गुरुद्वारा था लेकिन पालिका बाजार बनाने के दौरान इसे तोड दिया गया था। सिक्ख समाज के प्रतिनिधि अनूप सिंह सिद्धू ने बताया कि हमें सरकार ने ये कहा था कि वहां सिक्ख समाज को जमीन दी जाएगी। लेकिन उसके बाद 1984 के दंगे शुरू हो गए। इसके कारण सिक्खों को वहां गुरुद्वारे के लिए जमीन आवंटित नहीं की गई।
अब हम अपनी ऐतिहासिक जमीन वापस मांग रहे हैं। इसके इतर हमें कुछ भी मंजूर नहीं है।
तख्त दमदमा साहेब के जत्थेदार बलजीत सिंह दादूवाल ने कहा कि गुरूद्वारा ज्ञान गोदडी के लिए हरकी पैडी स्थित एतिहासिक स्थान के अलावा कोई स्थान मान्य नहीं है। उन्होंने कहा कि जिस स्थान पर गुरूनानक देव ने ज्ञान बांटा था वह ऐतिहासिक स्थान है। उस स्थान का सिक्ख समाज में बहुत बडा महत्व हैै। दादूवाल ने कहा कि प्रेमनगर पुल के पास जो धरना चल रहा है वह स्थान मान्य नहीं है। सिक्ख समाज केंद्र व प्रदेश सरकार से हरकी पैडी स्थित ऐतिहासिक स्थान की मांग करता है। पूर्व सीएम हरीश रावत ने अपने कार्यकाल में ऐतिहासिक स्थान देने का वादा किया था। इस बार प्रदेश में भाजपा की सरकार है और केंद्र में भी भाजपा की सरकार है। दोनों सरकारों को सिक्ख समाज की भावनाओं को देखते हुए ऐतिहासिक स्थान उपलब्ध कराना चाहिए। कुंवर जपिन्दर ने कहा कि कुछ लोग प्रेमनगर पुल के पास स्थान के लिए संघर्ष कर रहे हैं लेकिन समस्त सिक्ख समाज उसे नहीं मानता और मूल स्थान जो कि हरकी पैडी पर स्थित है उसकी मांग करता है। इस अवसर पर हरपाल सिंह सेठी, सुखदेव सिंह, जोगा सिंह, सूबा सिंह खालसा, प्रीतम सिंह, दलजीत सिंह मान, मनमोहन सिंेह, लाहोरी सिंह, हरमोहन सिंह, अनूप सिंह, विक्रम सिंह आदि सैंकडों लोग उपस्थित थे।

Advertise

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.