Breaking News Latest News Uttarakhand

अब ​श्रमिक बोले नहीं आए अच्छे दिन, नवंबर में दिल्ली कूच करेंगे

चंद्रशेखर जोशी।
अच्छे दिनों की आस में राष्ट्रीय मजदूर कांग्रेस ने दिल्ली कूच का ऐलान कर दिया है। केंद्र सरकार पर मजदूर विरोधी नीतियों का आरोप लगाते हुए इंटक के प्रदेश अध्यक्ष हीरा सिंह बिष्ट ने कहा कि लोगों की बडे पैमाने पर नौकरियां जा रही हैं और केंद्र सरकार की आर्थिक नीतियां मजदूर पर भारी पड रही है।  उन्होंने कहा कि श्रमिकों के हितों को लेकर इंटक सदैव ही कार्य करती चली आ रही हैं श्रमिकों का शोषण किसी भी रूप में बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। उन्होंने श्रमिक हितों पर बोलते हुए कहा कि श्रमिकों को संगठित होकर अपने हितों की लड़ाई लड़नी होगी। हीरा सिंह बिष्ट ने केन्द्र की जनविरोधी नीतियों पर बोलते हुए कहा कि केन्द्र सरकार श्रमिकों के हितों को लेकर सजग नहीं है। पूरे देश में श्रमिक उत्पीड़न की घटनायें बढ़ रही है। श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ 11 नवम्बर को दिल्ली चलो कार्यक्रम को सफल बनाना है केन्द्र सरकार लगातार श्रम विरोधी नीतियों को अपना रही है। महामंत्री ए0पी0 अमोली ने कहा है कि केन्द्र सरकार औद्योगिक क्षेत्रों में छटनी कर रही है। कई परिवार बेरोजगारी का दंश झेल रहे हैं। बेरोजगारी बढ़ रही है केन्द्र की जनविरोधी नीतियों का विरोध करें। भेल मजदूर कल्याण परिषद इंटक के अध्यक्ष सहदेव सिंह क्षेत्री ने कहा कि औद्योगिक क्षेत्रों में श्रम कानूनों का खुलकर उल्लघंन किया जा रहा है। प्रदेश भर में कामगार मजदूर आंदोलन के लिए मजबूर हैं। ठेका प्रथा को अपनाकर केन्द्र सरकार मजदूरों का लगातार अहित कर रही है। उन्होंने सभी को संगठित रहने की अपील की। महामंत्री राजवीर सिंह ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जनता को झूठे वादों में फंसाकर देश की जनता को छलने का काम कर रहे है। देश में जब से भाजपा की सरकार सत्ता में आई लगातार बेरोजगारी बढ़ रही हैं। सार्वजनिक क्षेत्र भी इससे आहत हैं। केन्द्र सरकार मात्र झूठी राजनीति कर जनता को छलने का काम रही है। उन्होंने कहा कि वो नई जिम्मेदारी के साथ पूरी तरह तैयार हैं और मजदूर हितों के लिए हर स्तर पर आंदोलन किया जाएगा।
युवा इंटक अध्यक्ष लवेन्द्र सिंह छिदवाल ने कहा कि भेल यूनियनें श्रमिकों के हितों को लेकर सजग हैं। निजी क्षेत्र में श्रमिकों का उत्पीड़न सहन नहीं किया जायेगा। मीडिया प्रभारी इन्द्रमोहन बड़थ्वाल ने कार्यकारिणी में पहुंचे सभी अतिथियों का आभार जताया और कहा कि मिल जुलकर ही श्रमिकों के हितों की लड़ाई को लड़ा जायेगा। ठेका प्रथा को समाप्त करने में यूनियन प्रशंसनीय कार्य कर रही है। किसी भी रूप में श्रमिकों का उत्पीडन बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। प्रदेश अध्यक्ष हीरा सिंह बिष्ट ने 11 नवम्बर को दिल्ली चलो आंदोलन का कार्यकारिणी मंे आहवान किया। इस अवसर पर धीरज भंडारी, जनार्दन सिंह, रोहिल शरण, जगदीश बहुगुणा, अवतार सिंह, संजय अग्रवाल, सुभाष राठी, सुकरम पाल, कुंवर पाल सिंह, सतीश चन्द्र भट्ट, मोहन थापली, श्यामसुन्दर मिश्रा, रविन्द्र चैबे, विक्टर, बी0एस0 रावत, मंजूर खान, राकेश कुमार, सूरजमोहन बहुगुणा, अजय कुमार, श्याम कुमार, संजय बिष्ट, विनोद, सरोज शर्मा, मनोज यादव, धर्मेन्द्र मिश्रा, शैलेन्द्र सक्सेना, संदीप कुमार, मकसूद, मोहतरीन, आशुतोष चैहान, कैलाश चंद, राजीव कुमार, सत्यम, राजेश बिष्ट, सत्यम कुमार, मुकुलराज, श्रीमती गीता नेगी, ममता, स्नेहलता, लक्ष्मी आनंद, आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.