Uttarakhand CM Helpline 1905 in

उत्तराखण्ड: अफसर नहीं सुनते तो सीएम हेल्पलाइन में करें शिकायत, क्या है प्रक्रिया जानिये

adv.

विकास कुमार।
उत्तराखण्ड सीएम हेल्पलाइन 1905 को शुरु हुए दो साल हो गए हैं और इन दो सालों में करीब 51 हजार से अधिक शिकायतों का निस्तारण किया गया है। सीएम हेल्पलाइन को फोन पर या फिर आनलाइन वेबसाइट पर जाकर भी शिकायत को दर्ज कराया जा सकता है। शिकायत दर्ज होने के बाद एक नंबर भी दिया जाता है जिसके जरिए आप अपनी शिकायत का स्टेटस जान सकते हैं।

:::::::::::
क्या है प्रक्रिया
सीएम हेल्पलाइन पर हिन्दी ,गढ़वाली ,कुमाउनी ,पंजाबी ,अंग्रजी किसी भी भाषा में समस्या दर्ज करा सकते हैं। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि सीएम हेल्पलाइन सुशासन का जीता जागता उदाहरण है इससे सरकार और जनता के बीच सीधा संवाद स्थापित हुआ है और सरकार की कार्यप्रणाली में पारदर्शिता बढी है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जनसमस्याओं के त्वरित निस्तारण के लिय बनी सीएम हेल्पलाइन 1905 का उत्तराखंड की जनता अधिक से अधिक लाभ उठाये। सीएम हेल्पलाइन पर किसी भी फ़ोन से निशुल्क टोलफ्री नंबर 1905 पर डायल करके किसी भी विभाग से सबंधित समस्या दर्ज करा सकते हैं या वेबसाइट cmhelpline.uk.gov.in पर भी समस्या दर्ज करा सकते हैं।

मुख्यमंत्री के आईटी सलाहकार रविन्द्र दत्त ने बताया कि अभी तक सीएम हेल्पलाइन पर 51 हजार 248 शिकायतों का संतुष्टि के साथ समाधान हो गया है। सीएम हेल्पलाइन 1905 के कॉल सेन्टर द्वारा शिकायतकर्ता को कॉल भी किया जाता है और शिकायतकर्ता की संतुष्टि प्राप्त होने पर ही शिकायत को बन्द किया जाता है। सीएम हेल्पलाइन में अधिकारियों को शिकायत प्राप्त होते ही 15 दिन के भीतर शिकायत पर कार्यवाही करना अनिवार्य है।

नोट: लेटेस्ट खबरें पाने के लिए हमें मैसेज करें 8267937117

test by harry

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!