Latest News Roorkee Uttarakhand

‘टिकट कटते ही हरिदास को भूली बसपा, सरवत भी हुए किनारे’

परवेज आलम, रूडकी।
दो बार के विधायक रहे हरिदास पार्टी में इस कदर हाशिये पर चले जाएंगे किसी ने सोचा भी नहीं था। रूडकी में आयोजित कार्यक्रम में सभी विधायकों और उम्मीदवारों को बुलाया गया था। मंच पर हरिदास और मंगलौर विधायक सरवत करीम अंसारी भी मौजूद थे। कार्यक्रम झबरेडा और रूडकी से उम्मीदवार घोषित करने के लिए किया गया था। मंच पर तमाम बडे नेता भी मौजूद थे। लेकिन वहां किसी ने भी विधायक हरिदास और विधायक सरवत करीम अंसारी का नाम नहीं लिया। दोनों ही विधायकों को किनारे कर दिया गया। इतना ही नहीं भागमल और डा. राम सुभग सिंह सैनी का टिकट घोषित करने के बाद जब उन्हें फूल मालाएं पहनाई जा रही थी तब भी हरिदास और भागमल किनारे खडे रहे। ऐसा लग रहा था कि दोनों से कोई गंभीर खता हो गई। हालांकि, बाद में दोनों ने पार्टी के सम्मान को स्वीकारा। विधायक हरिदास ने कहा कि बहनजी का निर्णय सर्वमान्य है। उनके निर्णय के अनुसार ही भागमल का टिकट हुआ है। मैं पूरी तरह से बसपा के लिए काम करूंगा। मंच पर नाम ना बोले जाने पर उन्होंने सफाई देते हुए कहा हमें इससे कोई गिला नहीं है। लेकिन दोनों को किनारे किए जाने की चर्चा आम कार्यकर्ताओं में भी खूब रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.