Breaking News Haridwar Latest News

संगीता बंसल बनी इंटक की राष्ट्रीय सचिव, तन—मन से सेवा करने की बात कही

ब्यूरो।
राष्ट्रीय मजदूर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिनेश सुन्दरियाल का हरिद्वार पहुंचने पर महानगर अध्यक्ष प्रदीप आहूजा के आवास पर कार्यकर्ताओं ने फूलमालाएं पहनाकर जोरदार स्वागत किया। इस दौरान राष्ट्रीय अध्यक्ष दिनेश सुन्दरियाल ने संगठन को मजबूती प्रदान करते हुए संगीता बंसल को राष्ट्रीय सचिव मनोनीत किया। कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय सचिव मनोनीत होने पर संगीता बंसल का स्वागत करते हुए शुभकामनाएं दी।
इस अवसर पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए दिनेश सुन्दरियाल ने कहा कि मजदूरों के हितों को लेकर संगठन विशेष रूप से काम कर रहा है। श्रमिकों के हितों से किसी प्रकार का समझौता स्वीकार नहीं किया जाएगा। ठेका प्रथा को समाप्त कराने के लिए संगठन अपने प्रयास कर रहा है। औद्योगिक क्षेत्रों मे श्रमिकों को न्यूनतम वेतन दिलाने की मुहिम भी तेजी के साथ चलायी जा रही है।
उन्होंने कहा कि राज्य व केंद्र सरकार श्रमिक हितों में ठोस फैसले नहीं ले पा रही है। औद्योगिक क्षेत्रों में निर्धारित समयावधि के अतिरिक्त काम लिया जाना श्रम कानूनों का उल्लंघन है। उन्होंन कहा कि श्रमिकों को उनका हक दिलाने के लिए कार्यकर्ता संगठित होकर कार्य करें। श्रमिकों का उत्पीड़न कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
उद्योगों में राज्य के स्थानीय युवाओं को 70 प्रतिशत रोजगार दिलाने के लिए अभियान चलाया जाएगा। मोदी सरकार श्रमिकों के हितों में निर्णायक भूमिका नहीं निभा पा रही है। देश भर का श्रमिक अपने हकों को लेकर आंदोलन चलाने को मजबूर हो रहा है। उन्होंने कहा कि संगठन में कर्मठ ईमानदार कार्यकर्ताओं को पूरे उत्तराखण्ड में सम्मिलित किया जाएगा। महानगर अध्यक्ष प्रदीप आहूजा ने कहा कि हरिद्वार में श्रमिकों की मांगों को लेकर समय समय पर शासन प्रशासन को चेताने का काम किया जा रहा है। औद्योगिक क्षेत्रों में श्रम कानूनों का उल्लंघन किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि स्थानीय युवाओं को रोजगार दिलाने के प्रयास भी इंटक करेगी। नवनियुक्त राष्ट्रीय सचिव संगीता बंसल ने कहा कि जो जिम्मेदारी उन्हें सौंपी गयी है। पूरी मेहनत से श्रमिकों के स्तर को उपर उठाने का काम किया जाएगा। उसका पूरी निष्ठा से निर्वहन करते हुए महिला श्रमिकों के हितों में कार्य किया जाएगा। औद्योगिक क्षेत्रों में महिला श्रमिकों की अनदेखी को किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि महिलाएं प्रत्येक क्षेत्र में अपनी पहचान स्वयं बनाती हैं। श्रमिकों के हितों को लेकर संगठन संगठित होकर ही कार्य करेगा। सिडकुल में स्थापित उद्योगों में महिला श्रमिकों की भागीदारी को सुनिश्चित करने के प्रयास तेजी के साथ किए जाएंगे।
साथ ही बालश्रम रोकने के प्रयास भी पूरे राज्य में किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि बालश्रम अपराध है। औद्योगिक क्षेत्रों में श्रम कानूनों को उल्लंघन नहीं किया जाना चाहिए। महंगाई के इस दौर में श्रमिकों को न्यूनतम वेतन अवश्य मिलना चाहिए। औद्योगिक क्षेत्र में लगातार प्रबंधकों की मनमानी के चलते कई शिकायतें भी मिलती हैं। उनका भी निस्तारण अवश्य कराया जाएगा। उन्होंने राष्ट्रीय अध्यक्ष दिनेश सुन्दरियाल का आभार प्रकट किया। इस अवसर पर संदीप अग्रवाल, मनोज गुप्ता, एडवोकेट पूजा, जगवीर सिंह, अरूण वर्मा, हिमांशु सक्सेना, नीरज पाण्डे, डा.नवीन अरोड़ा, प्रदीप आहूजा, श्रेय तलवार आदि सहित कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.