Kumbh mela haridwar 2021

547 नए केस, दो की मौत, दून—हरिद्वार में सबसे ज्यादा मामले, पढें उत्तराखण्ड की सभी प्रमुख खबरें

विकास कुमार।
सोमवार को भी उत्तराखण्ड में कोरोना के 547 नए मामले सामने आए हैं। सबसे ज्यादा केस देहरादून में 224 और हरिद्वार में 194 केस​ मिले हैं। वहीं देहरादून और हरिद्वार में कंटेनमेंट जोन भी बनाए जा रहे हैं, हरिद्वार के कनखल में गणेश पुरम कॉलोनी को सीज किया गया है। फिलहाल प्रदेश में 14 कंटेनमेंट जोन हैं। वहीं सोमवार को कोरोना से दो लोगों की मौत भी हुई।

——————————————————
पांच साल के बालक से 60 साल के बुजुर्ग तक बने नागा संन्यासी
कुंभ मेला: हरिद्वार में जूना अखाडे ने करीब एक हजार साधुओं को नागा संन्यासी बनाया है। इनमें पांच साल के बाल से लेकर साठ साल के बुजुर्ग भी शामिल हैं। ये सभी अपना प​रिवार और दुनिया की मोह माया त्याग संन्यासी बन गए हैं। 12 और 14 अप्रैल को होने वाले शाही स्नान में ये जूना अखाडे के साथ शाही स्नान करेंगे। इन सभी को बिडला घाट पर संन्यास परंपरा की दीक्षा दी गई।

————————————————————

एलटी भर्ती परीक्षा की ​तिथि घोषित
देहरदून। उत्तराखंड सेवा अधीनस्थ चयन आयोग ने एलटी भर्ती परीक्षा की तिथि तय कर दी है। 25 अप्रैल दिन रविवार को दो पालियों में एलटी भर्ती परीक्षा कराई जाएगी। सुबह 10:00 से 12:00 के मध्य प्रथम पाली और अप्रैल 2:00 बजे से 4:30 बजे तक द्वितीय पाली की परीक्षा आयोजित की जाएगी। परीक्षा की तिथि तय होने से करीब पचास हजार अ​भ्यर्थियों को फायदा होगा।

————————————————
सीएम तीरथ सिंह रावत का मंगलवार को हरिद्वार दौरा
कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद सीएम तीरथ सिंह रावत मंगलवार को हरिद्वार आ रहे हैं। यहां सीएम हरकी पैडी पर पूजा अर्चना करने के बाद मीडिया सेंटर में कुंभ कार्यों का लोकार्पण करेंगे। वहीं इसके बाद जगतगुरु आश्रम में विश्व हिंदू परिषद के संरक्षण दिनेश चंद्र से मुलाकात करेंगे।

——————————————————
इंटेग्रेटेड हेल्थ इनफार्मेशन प्लेटफार्म लांच
देहरादून। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत रावत ने वर्चुअल माध्यम से इन्टेग्रेटेड हेल्थ इनफार्मेशन प्लेटफार्म के लाँचिंग कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने सोमवार को आई.एच.आई.पी को लाँच किया। आई.एच.आई.पी पोर्टल के अन्तर्गत अभी 33 तरह की बीमारियों को जोड़ा गया। इस पोर्टल के माध्यम से विभिन्न प्रकार की बीमारियों की ऑनलाईन रिपोर्टिंग होगी। किसी राज्य के किसी भी क्षेत्र में फैल रही बिमारियों के बारे में इस सिस्टम के माध्यम पता चलेगा, जिससे उसको जल्द नियंत्रित करने में मदद मिलेगी।

———————————————————————————

Forest Fire in Uttarakhand
Forest Fire in Uttarakhand

वायु सेना के हेलीकॉप्टर ने बुझाई वनों में आग
टिहरी। प्रभागीय वनाधिकारी कार्यालय, नरेन्द्रनगर वन प्रभाग, मुनिकीरेती द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार वायु सेना के एमआई-17 हेलीकाप्टर के माध्यम से जंगलों में आग को बुझाने की कवायद प्रारम्भ की गई। जिसके प्रारम्भिक चरण में गढ़वाल में आज टिहरी जनपद अन्तर्गत नरेन्द्रनगर वन प्रभाग की नरेन्द्रनगर रेंज में अदवाणी क0सं0-04 एवं तमियार (फकोट ब्लॉक, टिहरी) में वनाग्नि को बुझाने का कार्य किया गया। सुबह 08ः30 बजे हेलीकॉप्टर देहरादून एयरपोर्ट पर उतरा। प्रारम्भिक तैयारियों के पूर्ण होने के उपरान्त प्रातः 10ः00 बजे एयर ऑपरेशन प्रारम्भ किया गया, जिसमें प्रारम्भिंक रैकी कार्य प्रभावित क्षेत्रों के ऊपर दो बार किया गया। तद्पश्चात कोटी कॉलोनी, टिहरी झील से 5,000 लीटर की बकेट में पानी भरकर वनाग्नि से प्रभावित जंगलों में पानी का 04 सोर्टियों के माध्यम से दो बार 10,000 लीटर पानी का छिड़काव कर वनाग्नि को नियंत्रित किया गया। एयर ऑपरेशन दोपहर 12ः40 बजे तक जारी रहा तथा बाद में प्रतिकूल मौसम के कारण ऑपरेशन को रोकना पड़ा। मंगलवार को आपरेशन दोबारा शुरु किया जाएगा।

————————————————————————————
जिनके पास कोरोना निगेटिव रिपोर्ट नहीं उनको भेजा वापस
ब्यूरो। मेलाधिकारी दीपक रावत ने नारसन बार्डर का निरीक्षण किया और आने वाले यात्रियों के पंजीकरण, आरटीपीसीआर जांच, कोविड निगेटिव रिपोर्ट और मेडिकल सर्टिफिकेट आदि की जांच की व्यवस्था की जानकारी ली। उन्होंने साथ ही जिनके पास 72 घंटे के भीतर की निगेटिव रिपोर्ट न होने पर उनकी जांच कराने या फिर उन्हें वापस भेजने के निर्देश दिए। उन्होंने वहां पर शौचालयों, पीने के पानी, साफ-सफाई आदि की भी जानकारी ली।
मेलाधिकारी ने कहा कि जो श्रद्धालु कुम्भ नगरी हरिद्वार मेला क्षेत्र में आना चाहते हैं, उन्हें कुम्भ की वेबसाइट पर पंजीकरण कराना होगा, जिसके लिये स्वास्थ्य प्रमाण पत्र, फोटो पहचान पत्र एवं आर0टी0पी0सी0आर0 नेगेटिव रिपोर्ट जो 72 घण्टे से ज्यादा पुरानी न हो, आवश्यक है। उन्होंने कहा कि बिना पंजीकरण कुम्भ मेला क्षेत्र में ठहरने की अनुमति नहीं है तभा भारत सरकार द्वारा समय-समय पर जारी कोविड-19 के सन्दर्भ में जारी गाईडलाइन का पालन आवश्यक है अन्यथा की स्थिति में कार्रवाई की जायेगी।

————————————————————————
परी अखाडा की साध्वियों ने दी आत्महत्या की चेतावनी
ब्यूरो। परी अखाडा की प्रमुख साध्वी त्रिकाल भवंता ने मेला प्रशासन और अखाडा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी पर हल्ला बोलते हुए कहा कि परी अखाडा की साध्वियों को दरकिनार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मेला प्रशासन ने अभी तक परी अखाडा को जमीन आवंटित नहीं की है और अगर परी अखाडा की मांगें नहीं मानी गई तो आठ अप्रैल के बाद परी अखाडा की साध्वियां आत्महत्या करने को मजबूर होंगी।

उत्तराखण्ड की प्रमुख खबरें पाने के लिए हमें व्हट्सएप करें: 8267937117

test by harry

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!