rape

उत्तराखण्ड: 14 साल की नाबालिग को छह हजार में बेचा, लॉकडान में हुए खेल का टीचर ने किया खुलासा

पीसी जोशी।
​चमोली जनपद हुग जूनियर हाई स्कूल में पढने वाली आठवी कक्षा की छात्रा को लाकडाउन के दौरान महज छह हजार रुपए में बेचने का मामला सामने आया है। आरोप है कि पिता ने छह हजार रुपए में 32 साल के आदमी से उसकी जबरन शादी करा दी। ये खुलासा तब हुआ जब स्कूल के अध्यापक उपेन सती लाकडाउन के बाद घर—घर जाकर बच्चों को पढाई के लिए प्रेरित कर रहे थे। इस दौरान पता लगा कि आठवी में पढने वाली बच्ची की शादी कर दी गई। शिक्षक के दबाव में छात्रा के पिता ने उसे वापस बुलाया और छात्रा अपने शिक्षक के सामने फफक पडी और पूरी कहानी बताई। शिक्षक ने ये वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल किया है। इसके बाद मामले की जांच शुरु कर दी गई।
शिक्षक उपेन सती ने वायरल वीडियो में बताया कि बच्ची की मां नहीं है और गरीब परिवार से होने के कारण उसके पिता ने लाकडाउन में उसकी इच्छा के विपरीत उसकी शादी 32 साल के युवक से कर दी। शादी के बाद लडकी को पीटा गया। लडकी ने बताया कि उसका पति शराबी है और एक कंपनी में मजदूरी करता है। उसे रोजाना पीटा जाता था और होली पर उसे आग लगाने का प्रयास भी किया गया।
अध्यापक ने बताया कि बच्ची ने रोते हुए बताया कि उसे बचा लिय जाए और वो वापस नहीं जाना चाहती है। वायरल वीडियो में शिक्षक ने ये भी आरोप लगाया कि पर्वतीय जनपदों में गरीब परिवारों की बच्चियों को बाहर के लोग शादी के लिए खरीद कर ले जाते हैं और इसके बाद उन्हें बेच दिया जाता है या फिर भिक्षावृत्ति कराई जाती है। उन्होंने कहा कि चमोली, उत्तरकाशी आदी जनपदों में ये बहुत चल रहा है और प्रशासन को भी इसका पता है। वहीं वीडियो वायरल होने के बाद पूरे मामले की जांच शुरु कर दी गई।

test by harry

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!