युवा तुर्क

‘चुनाव में पैसा बोलता है, बिना पैसे के नहीं लड़ सकते चुनाव’

युवाओं की राजनीति में साहिल राणा एक सुलझे हुए नेता के तौर पर उभर रहे हैं। आइये जानते हैं ये राजनीति को किस तरह देखते हैं

प्रश्न— राजनीति में युवाओं की भूमिका किस तरह देखते हैं?
उत्तर— राजनीति मे इमानदार व कर्मठ युवाओं का सक्रिय होना बहुत जरूरी है। युवाओं को अपनी राजनीति दिशा तय कर उच्च आचरण वाले लोगों की सोहबत मे रहकर समाज उत्थान हेतु कार्य करने चाहिए। समाज के हर वर्ग को युवाओं से अच्छे बर्ताव की उम्मीद रहती है। इसलिए समाज को चाहिए की युवाओं को उनकी योग्यता के अनुसार समय—समय पर जिम्मेदारी देते रहना चाहिए। ताकि युवा सही दिशा के साथ समाज उत्थान हेतु आगे बढ़ते रहे।

प्रश्न— आपको राजनीति में आने के लिए किससे प्रेरणा मिली?
उत्तर— मैंने राजनीति मे पैगमबर मुहम्मद साहब, सल्ल., की जीवन शैली व विचारों से प्रेरणा ली।

प्रश्न— आपकी शुरूआत छात्र राजनीति से हुई या किसी और कारण से राजनीति में आए हैं या फिर सीधे ही सक्रिय राजनीति में आए हैं?
उत्तर— मैंने अपने इर्दगिर्द अव्यवस्थाओं का बोलबाला देखा मैंने सोचा शायद राजनीति मैं जाकर कुछ बदल सकूं। इसलिए मैंने सीधे सक्रिय राजनीति मे प्रवेश किया मेरे कार्य से प्रभावित होकर कांग्रेस ने 16 साल की उम्र मे 2004 व 2007 मैं मुझे कांग्रेस ब्लॉक महासचिव रूडकी बनाया। 2010 मे मैंने कलियर विधानसभा से युवा कांग्रेस प्रतिनिधि का चुनाव जीता। 2013 मैंने उत्तराखण्ड युवा कांग्रेस प्रदेश सचिव का चुनाव जीता। और मेरे कार्य से प्रभावित होकर हाईकमान ने मुझे उत्तराखण्ड युवा कांग्रेस प्रदेश महासचिव बनाया।

प्रश्न — आप को राजनीति में किन चुनौतियों का सामना करना पड़ा?
उत्तर— राजनीति मे सक्रिय होने पर जब मैंने जन समस्याओं की लड़ाई लड़ी तो पुराने नेता जो लोकतंत्र होते हुए भी लोगों से तानाशाहों जैसा व्यवहार करते थे अपनी राजनीति जमीन खिसकता देख मुझे नीचा दिखाने मे लग गये मुझे झूठे मुकदमे में फसाने जैसे हर हथकण्डे अपनाते रहे। लेकिन सच को कोई आंच नहीं। कुछ अच्छे नेता भी हैं जिनका मुझे भरपूर सहयोग मिला।

प्रश्न —राजनीति में आने के लिए आपको परिवार में सबसे ज्यादा सहयोग किससे मिला?
उत्तर— मुझे राजनीति मे मेरे बड़े भाई व मेरी बहन व मेरी माँ व मेरे दोस्तो का भरपूर सहयोग मिला।

प्रश्न — अपनी पार्टी को मजबूत करने के लिए आपके पास क्या योजना है।
उत्तर— मेरी मानना है की संगठन ओर सरकार मे तालमेल होना चाहिए तथा संगठन के लोगों को जनता के मुद्दों को सरकार से बताकर सुलझाने का काम करना चाहिए। बूथ स्तर पर टीम गठित कर पदाधिकारियों को सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुँचानी चाहिए तथा सरकार को कर्मठ पदाधिकारियों का सम्मान कर उनकी योग्यता के हिसाब से दायित्व देने चाहिए। मे कलियर विधानसभा मे इसी विषय पर काम कर रहा हूँ।

प्रश्न — भ्रष्टाचार को कैसे खत्म किया जा सकता है।
उत्तर— इमानदार लोगों को राजनीति मे सक्रिय होना पड़ेगा तथा जनता को भी इमानदार लोगों को चुनना होगा जनता को चुनाव मे साफ व इमानदार छवि वाले लोगों को बढ़ाकर एक दूसरे की ताकत बनना होगा।

प्रश्न — अपने क्षेत्र की तीन प्रमुख समस्याएं बताइये।
उत्तर— पीने का पानी सही नहीं है। नजदीक प्राथमिक चिकित्सालय नहीं है। हाई स्कूल, इंटर कॉलेज व डिग्री कॉलेज नहीं है।

प्रश्न — राजनीति में आपका रोल मॉडल कौन है?
मैं मुख्यमंत्री हरीश रावत जी से प्रभावित हूँ कलियर विधायक हाजी फुरकान अहमद मेरे राजनीति गुरू हैं तथा मे राहुल गाँधी जी को अपना रोल मॉडल मानता हूँ।

प्रश्न — क्या बिना पैसे के राजनीति में अच्छा मुकाम मिल सकता है?
हाँ अगर बिना स्वार्थ जनहित के लिए लड़ाई लड़ोगे तो यकीनन आपको मकाम के पीछे भागना नहीं पड़ेगा मकाम खुद आपके पीछे भागेगा। हाँ अगर चुनाव लड़ना है तो पैसे के बिना मुश्किल हैं।

प्रश्न — क्या भाई—भतीजावाद के सामने युवा प्रतिभा दम तोड रही हैं?
भाई भतीजा वाद बेकार की बात है अगर किसी नेता का बेटा राजनीति मे सक्रिय हे तो उसे राजनीति मे आने का पूरा हक है। हाँ नाकारा लोगों को जिम्मेदारी नहीं देनी चाहिए चाहे वे किसी नेता का बेटा व भाई व भतीजा ही क्यों न हो।

प्रश्न —आपके आय के स्रोत क्या हैं, पैसे की किल्लत के कारण कभी परिवार में डांट पड़ती है?
मैं बिजनेस करता हूँ  घर वालो ने कभी किसी चीज के लिए मना नहीं किया। हाँ शुरू मे सब राजनीति को बेकार का काम बताकर इससे दूर रहने को कहते थे।

प्रश्न —आपको मुख्यमंत्री बना दिया जाए, तो आप कौन सा एक काम करना चाहेंगे, जिसके लिए आपको प्रदेश की जनता याद रखे?
मैं राज्य मे बिजली,पानी व हर तरह की पढ़ाई फ्री कर दूँगा। गरीब लड़की व लड़के की शादी मे विशेष अनुदान दूँगा तथा हर गरीब व मध्यवर्ग बीमार व्यक्ति की बीमारी का पूरा खर्च वहन करूँगा। राज्य के लोगों को रोजगार देने के लिए मे उत्तराखणड को पूरे विश्व का सबसे बड़ा आयुर्वेदिक हब बना दूँगा।

प्रश्न —क्या आप अपने अब तक के राजनीति करियर से संतुष्ट हैं?
हाँ मैं अपने राजनीतिक कैरियर से खुश हूँ । लेकिन मैं ओर ज्यादा काम करना चाहता हूँ । सरकार चाहे तो मुझसे और ज्यादा काम ले सकती है। मुझे दुख है। मैं जिस विषय को लेकर राजनीति मे आया हूँ  उस खुल कर काम नहीं कर पा रहा हूँ ।

प्रश्न —आपकी रूचि क्या—क्या हैं?
मैं एक शायर हूँ  ग़ज़ल लिखता हूँ क्रिकेट खेलना,खाना बनाना, दोस्तो के साथ घूमना मुझे पसंद है

प्रश्न —आपके पसंदीदा लेखक, एक्टर, एक्ट्रेस, खिलाड़ी और पत्रकार का नाम बताएं?

खिलाडी— सचिन तेंदुलकर, क्रिस गेल, शाहिद अफरीदी,धर्मेंद्र,
एक्टर— रजनी कांत, शाहरुख खान, रितिक रोशन,अक्षय कुमार राज पाल यादव,
एक्ट्रेस —करीना कपूर, श्रुरती हसन,
पत्रकार—  अमिताभ अग्निहोत्री

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.